Tuesday , January 23 2018

आफ़रीदी के लिए बच्चों की परवरिश काफ़ी अहम

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के साबिक़ कप्तान शाहिद ख़ान आफ़रीदी ने कहा है कि क्रिकेटर बनना मेरा ख़ाब था। क्रिकेटर ना होता तो फ़ौजी होता, इमरान ख़ान से मुतास्सिर हो कर क्रिकेट खेलना शुरू किया। एक निजी टी वी के प्रोग्राम में गुफ़्तगु करते हु

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के साबिक़ कप्तान शाहिद ख़ान आफ़रीदी ने कहा है कि क्रिकेटर बनना मेरा ख़ाब था। क्रिकेटर ना होता तो फ़ौजी होता, इमरान ख़ान से मुतास्सिर हो कर क्रिकेट खेलना शुरू किया। एक निजी टी वी के प्रोग्राम में गुफ़्तगु करते हुए शाहिद आफ़रीदी ने कहा कि क्रिकेट खेलना और क्रिकेटर बनना मेरा ख़ाब था मगर जो इज़्ज़त मुझे पाकिस्तानी क्रिकेट ने दी वो मेरी तवक़्क़ुआत से कई ज़्यादा है।

उन्होंने कहा कि मैं अगर क्रिकेटर ना होता तो एक फ़ौजी होता। शाहिद आफ़रीदी ने कहा कि मेरे पसंदीदा क्रिकेटर इमरान हैं जिन से मुतास्सिर हो कर क्रिकेट खेलना शुरू किया। उन्होंने कहा कि मुल़्क की ख़ातिर खेलता रहूँगा और मुल्क का नाम रोशन करूंगा। साबिक़ कप्तान ने कहा कि अपने बच्चों से बहुत प्यार करता हूँ और उन की अच्छी तर्बीयत करना चाहता हूँ इसलिए जो वक़्त फ़ारिग़ मिलता है वो अपने घर में गुज़ारने की कोशिश करता हूँ।

TOPPOPULARRECENT