Monday , November 20 2017
Home / Sports / इंग्लैंड के 7 विकेट झटके अश्विन रिकॉर्ड, रिकॉर्ड के करीब

इंग्लैंड के 7 विकेट झटके अश्विन रिकॉर्ड, रिकॉर्ड के करीब

चेन्नई : टीम इंडिया की कोशिश इंग्लैंड को जल्दी आउट करने की है और उसने इस दिशा में कदम बढ़ा भी दिए हैं. अश्विन ने दिन की पांचवीं ही गेंद पर कल के नाबाद बल्लेबाज बेन स्टोक्स (5) को पैवेलियन लौटा दिया है और नए रिकॉर्ड के नजदीक पहुंच गए हैं. इंग्लैंड ने लंच तक 7 विकेट पर 385 रन बना लिए हैं. लियाम डॉसन (38) और आदिल राशिद (28) क्रीज पर हैं. उमेश यादव ने मोईन अली (146 रन, 13 चौके, 1 छक्का) का अहम विकेट लिया. रवींद्र जडेजा ने तीन, ईशांत शर्मा ने दो और उमेश यादव, आर अश्विन ने एक-एक विकेट लिया है. (रवींद्र जडेजा जा भिड़े आदिल राशिद से, हो गए चित…)

इंग्लैंड की ओर से मोईन अली (120) और बेन स्टोक्स (5) ने पारी को 284 रन से आगे बढ़ाया और स्कोर में तीन रन ही जुड़े थे कि स्टोक्स के रूप में अश्विन ने मैच का पहला और इंग्लैंड का पांचवां विकेट झटक लिया. अश्विन ने इस सीरीज में बेन स्टोक्स को पांचवीं बार अपना शिकार बनाया है. स्टोक्स का अश्विन के खिलाफ औसत 18.8 का रहा है. स्कोर में 13 रन ही जुड़े थे कि जॉस बटलर (5) को ईशांत शर्मा ने अपना दूसरा शिकार बना लिया. इस प्रकार 300 रन पर इंग्लैंड के छह विकेट गिर गए. शनिवार सुबह इंग्लैंड के लिए अच्छी नहीं रही और उनका सातवां खिलाड़ी भी जल्दी ही लौट गया, जब उमेश यादव ने जमकर खेल रहे शतकवीर मोईन अली को पैवेलियन भेज दिया. अली ने 262 गेंदों का सामना किया और 13 चौकों व एक छक्के की मदद से 246 रन बनाए. अली ने यादव को पुल किया, लेकिन ऑफ स्टंप के बाहर की गेंद पर यह शॉट खेलना उन्हें महंगा पड़ा गया और रवींद्र जडेजा ने दौड़ लगाते हुए शानदार कैच लपक लिया. इसके बाद लियाम डॉसन और आदिल राशिद ने लंच तक 31 रन जोड़कर कोई विकेट नहीं गिरने दिया. लंच तक इंग्लैंड का स्कोर सात विकेट पर 352 रहा. लियाम डॉसन (27) और आदिल राशिद (8) नाबाद लौटे.

टीम इंडिया के स्टार ऑफ स्पिनर आर अश्विन भले ही पहले दिन कोई सफलता हासिल नहीं कर पाए थे, लेकिन दूसरे दिन उन्होंने बेन स्टोक्स को आउट कर अच्छी शुरुआत की है. यदि वह इंग्लैंड के तीन विकेट लेने में कामयाब रहे, तो सबसे तेज गति से 250 विकेट लेने के ऑस्‍ट्रेलिया के डेनिस लिली के रिकॉर्ड को तोड़ देंगे.

टीम इंडिया ने पूरी सीरीज में ही कई कैच छोड़े और जब-जब इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने बड़ी पारी खेली तो उसमें टीम इंडिया की खराब फील्डिंग का भी अहम रोल रहा. शुकुरवार को मोईन की पारी की शुरुआत में ही केएल राहुल ने कैच टपकाया. 49 रन बनाने वाले जॉनी बेयरस्‍टॉ को भी विकेटकीपर पार्थिव पटेल ने लाइफ दी.

TOPPOPULARRECENT