डोनाल्ड ट्रंप की धमकी, भारत को नहीं उठाने देंगे WTO का फायदा

डोनाल्ड ट्रंप की धमकी, भारत को नहीं उठाने देंगे WTO का फायदा

अमेरिकी राष्ट्रपित डोनाल्ड ट्रंप का कहना है कि भारत और चीन पहले से ही विकसित हो चुके हैं और अब उनका WTO के विकसित देशों के टैग का फायदा उठाना अनुचित है. इसी के साथ उन्होंने साफि किया कि वो अब ऐसा नहीं होने देंगे. ये कहते हुए डोनाल्ड ट्रंप ने उम्मीद जताई है कि WTO अमेरिका के साथ “निष्पक्षता” से पेश आएगा.

मंगलवार को पेन्सिलवेनिया में एक सभा को संबोधित करते हुए ट्रंप ने कहा कि भारत और चीन- एशिया के दो आर्थिक दिग्गज अब विकसित राष्ट्र नहीं रहे हैं और इसलिए वे विश्व व्यापार संगठन से लाभ नहीं उठा सकते हैं. उन्होंने कहा, “वे (भारत और चीन) साल-दर-साल हमारा फायदा उठा रहे थे.”

ट्रंप ने कहा, “अब हम ऐसा नहीं होने देंगे… हमारे अलावा हर कोई आगे बढ़ रहा है.” मालूम हो कि हाल ही में ट्रंप ने WTO से सवाल किया था कि वो विकासशील देशों को कैसे परिभाषित करती है. इस सवाल के चंद दिनों बात ही ट्रंप ने भारत, तुर्की और चीन को लेकर टिप्पणी की है, ताकि इन्हें वैश्विक व्यापार नियमों को तहत मिल रहे अतिरिक्त मदद को काटा जा सके.

चुनावी कैंपेन में अमेरिका फर्स्ट की नीति अपनाने वाले ट्रंप अमेरिकी उत्पादों पर “अत्यधिक उच्च” कर लागू करने के लिए भारत के मुखर आलोचक रहे हैं और देश को “टैरिफ किंग” कहते रहे हैं. इसी के साथ ट्रंप द्वारा चीनी सामानों पर टैरिफ लगाने और बीजिंग द्वारा प्रतिशोधी कार्रवाई के बाद अमेरिका वर्तमान में चीन के साथ पहले ही व्यापार युद्ध में उलझा हुआ है.

जुलाई में ट्रंप ने अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि (USTR) को उन देशों और अर्थव्यवस्थाओं जो WTO की खामियों का अनुचित लाभ उठा रहे हैं के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई शुरू करने का अधिकार दिया था. जिनेवा-आधारित विश्व व्यापार संगठन एक अंतर-सरकारी संगठन है जो देशों के बीच अंतरराष्ट्रीय व्यापार को नियंत्रित करता है.

Top Stories