Monday , July 16 2018

इंडिया मोबाइल कांग्रेस-2018 दुनिया के सबसे बड़े टीएमटी और आईसीटी सम्मेलनों में से होगी एक

नई दिल्ली : इंडिया मोबाइल कांग्रेस (आईएमसी) ने इंडिया मोबाइल कांग्रेस के प्रारंभि विवरण की घोषणा की है। वार्षिक मोबाइल उद्योग कार्यक्रम के लिए नियोजित इस विवरण में वार्षिक मोबाइल उद्योग आयोजन के प्रदर्शक, प्रायोजक, प्रोग्राम और गतिविधियां शामिल हैं। थीम ‘न्यू डिजिटल होरिज़ोन्स कनेक्ट, क्रिएट इनोवेट’ के अंतर्गत इंडिया मोबाइल कांग्रेस का आयोजन 25 से 27 अक्टूबर को एरोसिटी, नई दिल्ली में किया जाएगा। इसके साथ ही आयोजन स्थल पर कई और आयोजन भी होंगें। आईएमसी को टेलीकाॅम उद्योग से 200,000 से अधिक पेशेवरों के आने की अपेक्षा है, जिसमें 5जी, स्टार्ट-अप इकोसिस्टम, इंटरनेट आॅफ थिंग्स (आईओटी), बिग डेटा, आर्टिफिशियल इंटेलिजेन्स (एआई), स्मार्ट सिटीज और संबद्ध उद्योग क्षेत्रों के लोग इंडिया मोबाइल कांग्रेस में उपस्थित होंगें।

इंडिया मोबाइल कांग्रेस एशिया के सबसे बड़े मोबाइल, इंटरनेट और तकनीक आयोजनों में से एक है, जिसे भारत सरकार के दूरसंचार विभाग और सेल्युलर आॅपरेटर्स ऐसासिएशन आॅफ इंडिया (सीओएआई) द्वारा आयोजित किया जाता है। इंडिया मोबाइल कांग्रेस के अनावरण समारोह को संबोधित करते हुए भारत सरकार के संचार और रेल राज्यमंत्री श्री मनोज सिन्हा ने इंडिया मोबाइल कांगे्रस-2018 की घोषणा करते हुए कहा है कि मोबाइल कांगे्रस-2018 की मेजबानी दूरसंचार विभाग और सेल्युलर आॅपरेटर्स एसोसिएशन द्वारा की जाती है। यह नीति निर्माताओं, उद्योग और विनियामकों के लिए अर्थपूर्ण तरीके से जुडन्े का एक उत्कृष्ट मंच है, ताकि इस महत्वपूर्ण क्षेत्र के भविष्य को दिषा दी जा सके।

इस वर्ष हम आसियान और बीआइएमएसटीईसी के अपने मित्रों की उपस्थित से अभिभूत होंगें, जिससे हमारे आदान-प्रदान को वैश्विक जुड़ाव मिलेगा। आयोजन की थीम और शेड्यूल की घोषणा करते हुए टेलीकाॅम कमीशन की चेयरपर्सन और संचार मंत्रालय के दूरसंचार विभाग की सचिव सुश्री अरुणा सुंदरराजन ने कहा कि भविष्यगामी तकनीकों, जैसे 5जी और आईओटी की प्रगति के कारण हम मानव इतिहास में तकनीकी बदलाव के दौर में खड़े हैं। भारत इस नये डिजिटल भविष्य को अपनाने के लिए तैयार है। इसलिए हमारा ध्यान भारत में 5जी के लिए तैयार होने और विभिन्रन सेक्टर्स में नई तकनीक को अपनाने और बढ़ावा देने पर केंद्रित है।

सेल्युलर आॅपरेटर्स ऐसोसिएशन आॅफ इंडिया के महानिदेशक राजन एस. मैथ्यूज ने कहा कि भारत में मोबाइल के 1.2 बिलियन उपयोकर्ता हैं और यह पूरे भारत को आपस में जोड़ रहा है। मोबाइल नवोन्मेष को गति दे रहा है, उद्योग में क्रांति ला रहा है और विकसित तथा विकासशील दोनांे बाजारों में नये अवसर उत्पन्न कर रहा है।

मैथ्यूज के अनुसार मोबाइल जिंदगी को बेहतर बनाने के लिए एक्सेस प्रदान करता है और कुछ मामलों में यह जिंदगी में बदलाव भी लाता है। संयुक्त राष्ट्र के स्थायी विकास के लक्ष्यों के प्रति हमारी प्रतिबद्धता के अनुसार मोबाइल आशा को जीवन दे रहा है, असमानता दूर कर रहा है और हमारी दुनिया के संसाधनों का संरक्षण कर रहा है। हम मोबाइल विश्व कांग्रेस-2018 का बेसब्री से इंतजार कर रह है और इसमें हम दिखाएंगें कि किस तरह मोबाइल आज एक बेहतर भविष्य का निर्माण कर रहा है।

TOPPOPULARRECENT