Wednesday , December 13 2017

इंतिख़ाबी मुहिम (चुनाव अभियान) के लिए मेरी ख़िदमात हासिल की जाए

साबिक़ वज़ीर डाक्टर शंकर राव ने कहा कि इंतिख़ाबी मुहिम (चुनाव अभियान) के लिए मेरी ख़िदमात से इस्तिफ़ादा कांग्रेस के लिए मुफ़ीद साबित होगा। चंद्रा बाबू नायडू और जगन मोहन रेड्डी की बदउनवानीयों को वो इंतिख़ाबी मुहिम (चुनाव अभियान)

साबिक़ वज़ीर डाक्टर शंकर राव ने कहा कि इंतिख़ाबी मुहिम (चुनाव अभियान) के लिए मेरी ख़िदमात से इस्तिफ़ादा कांग्रेस के लिए मुफ़ीद साबित होगा। चंद्रा बाबू नायडू और जगन मोहन रेड्डी की बदउनवानीयों को वो इंतिख़ाबी मुहिम (चुनाव अभियान) के दौरान मंज़रे आम पर लाएँगे। उन्हों ने कहा कि ज़िमनी इंतिख़ाबात (उप चुनाव) में कांग्रेस कितने हल्कों में कामयाबी हासिल करेगी? 15 जून को मालूम हो जाएगा। वो कांग्रेस के वफ़ादार सिपाही हैं, बदउनवानीयों के ख़िलाफ़ सोनीया गांधी के जारिहाना (आक्रामक) मौक़िफ़ से बहुत ज़्यादा मुतास्सिर (प्रभावित) हुए हैं, इसी लिए कांग्रेस के वक़ार को शफ़्फ़ाफ़ (पारदर्शी) बनाने के लिए बदउनवानीयों के ख़िलाफ़ तहरीक चला रहे हैं।

अगर कांग्रेस इंतिख़ाबी मुहिम (चुनाव अभियान) में उनकी ख़िदमात से इस्तिफ़ादा करती है तो इस के उम्मीदवारों के वोट बैंक में इज़ाफ़ा होगा। सदर तेलगू देशम और सदर वाई एस आर कांग्रेस की बद उनवानीयों को मंज़रे आम पर लाते हुए इन क़ाइदीन की ज़बान बंदी ज़रूरी है, मगर अफ़सोस कि कांग्रेस अब तक उन की ख़िदमात से इस्तिफ़ादा नहीं कर सकी। सितम ज़रीफ़ी ये है कि सी एल पी ऑफ़िस में प्रेस कान्फ़्रैंस के एहतिमाम से भी रोका जा रहा है। इन की ख्वाहिश है कि ज़िमनी इंतिख़ाबात (उप चुनाव) में कांग्रेस का मुज़ाहरा शानदार हो और बेशतर हल्कों में कांग्रेस उम्मीदवार कामयाब हों।

TOPPOPULARRECENT