Tuesday , December 12 2017

इंतिख़ाब के बाद लालू की जगह होटवार जेल : वजीरे आला रघुवर दास

रांची/मुजफ्फरपुर : झारखंड के वजीरे आला रघुवर दास ने कहा, अजीम इत्तिहाद में शामिल सभी दलों का एक ही मकसद है, ताक़त, हुकूमत व जायदाद हासिल करना। किसानों, मजदूरों व आम आदमी के तरक्की से उसका कोई मतलब नहीं है। कांग्रेस लुटेरों की पार्टी है, तो लालू प्रसाद की पार्टी डकैतों की हैं। इन दोनों के मेल से ही झारखंड में मधु कोड़ा की हुकूमत बनी, जिसने चार हजार करोड़ रुपये का घोटाला किया। चारा घोटाला भी झारखंड की ज़मीन पर ही हुआ। इस इंतिख़ाब के बाद लालू प्रसाद को बिहार की ज़मीन पर कोई जगह नहीं मिलेगी। उन्हें होटवार जेल में रहना है।

वे इतवार को बीबी कॉलेजिएट में शहरी इलाक़े के भाजपा उम्मीदवार सुरेश शर्मा के हक़ में अवामी इजलास को खिताब कर रहे थे। कहा, आज सभी पार्टियों के लिए मोदी ही टारगेट क्यों हैं? क्योंकि वे गरीब की बात करते हैं, तरक्की की बात करते हैं।

भारत में जम्हूरियत की जड़ें काफी मजबूत है। यहां गरीब, पसमानदा का बेटा मुल्क का वजीरे आजम बन सकता है, तो एक मजदूर व पार्टी का आम कारकुनान झारखंड का वजीरे आला। लेकिन कुछ पार्टियां ऐसी है जो खुद, अपनी बीवी व उसके बाद बेटे, बेटी के बारे में ही सोचते हैं। तो कुछ हम-ही-हम की सोच रखते हैं। यही वजह है कि महादलित के बेटे जीतन राम मांझी को बेइज्जत कर वजीरे आला के ओहदे से हटा दिया गया। झारखंड के सीएम ने मुसलमानों को भी टार्गेट करने की कोशिश की। कहा, मुसलमान भाजपा को मुखालिफत के चश्मे से ना देखें। उन्हें मध्यप्रदेश, झारखंड, महाराष्ट्र, राजस्थान में जाकर देखना चाहिए। वहां जो भी मंसूबे बनती हैं, उसका फायदा तमाम तबके के लोगों को मिलता है।

TOPPOPULARRECENT