Wednesday , December 13 2017

इंश्योरेंश शोबा में 26 फ़ीसद एफ डी आई का फ़ैसला मुल्तवी

हुकूमत ने आज ग़ैरमुल्की रास्त सरमाया कारी (एफ डी आई) की इंतिहाई (अ‍ंतिम/ आखिरी) हद 26 फ़ीसद मुक़र्रर ( रखना) करने के फ़ैसला को जिसकी तजवीज़ पार्लीयामेंट की मजलिस क़ायम बराए फायनेंस ने पेश की थी, मुल्तवी ( आगे बढा देना) कर दिया। मर्कज़ी काबीन

हुकूमत ने आज ग़ैरमुल्की रास्त सरमाया कारी (एफ डी आई) की इंतिहाई (अ‍ंतिम/ आखिरी) हद 26 फ़ीसद मुक़र्रर ( रखना) करने के फ़ैसला को जिसकी तजवीज़ पार्लीयामेंट की मजलिस क़ायम बराए फायनेंस ने पेश की थी, मुल्तवी ( आगे बढा देना) कर दिया। मर्कज़ी काबीना के इजलास ( मीटिंग) के बाद वज़ीर फायनेंस परनब मुकर्जी ने एक प्रेस कान्फ्रेंस में इसकी इत्तेला ( खबर/ सूचना) दी और कहा कि 26 फ़ीसद ( प्रतिशत) ग़ैरमुल्की सरमाया कारी ( पूँजी वालों) को पहले ही इजाज़त दी जा चुकी है। इसमें तरमीम का फ़ैसला आज मुल्तवी ( स्थगित/ रोक देना) कर दिया गया।

TOPPOPULARRECENT