Friday , November 24 2017
Home / Hyderabad News / इंसिदाद जराइम के लिए रियासती हुकूमत के बेहतर इक़दामात: वज़ीर-ए-दाख़िला

इंसिदाद जराइम के लिए रियासती हुकूमत के बेहतर इक़दामात: वज़ीर-ए-दाख़िला

वज़ीर-ए-दाख़िला एन नरसिम्हा रेड्डी ने हैदराबाद और रंगारेड्डी में रहज़नी और चैन छीनने के वाक़ियात में इज़ाफे की तरदीद की।

वज़ीर-ए-दाख़िला एन नरसिम्हा रेड्डी ने हैदराबाद और रंगारेड्डी में रहज़नी और चैन छीनने के वाक़ियात में इज़ाफे की तरदीद की।

उन्होंने कहा कि हुकूमत इस तरह के वाक़ियात पर क़ाबू पाने ना सिर्फ़ इक़दामात कररही है बल्कि ख़वातीन को मुकम्मिल तहफ़्फ़ुज़ फ़राहम करने पुलिस को मुतहर्रिक किया गया है।

वज़ीर-ए-दाख़िला ने वकफ़ा-ए-सवालात के दौरान बी जे पी, कांग्रेस और दुसरे अरकान के सवाल पर कहा कि जराइम की रोक थाम के लिए हुकूमत के इक़दामात से बेहतर नताइज बरामद होरहे हैं।

उन्होंने कहा कि अहम मुक़ामात पर अभी तक 1000 सी सी कैमरे नसब किए गए। इस सिलसिले में बजट में 80करोड़ रुपये फ़राहम किए गए हैं ताकि दुसरे इलाक़ों में भी कैमरे नसब किए जाएं। वज़ीर-ए-दाख़िला ने कहा कि हैदराबाद में जराइम पर क़ाबू पाना और अमन-ओ-ज़बत की सूरत-ए-हाल पर क़ाबू रखना हुकूमत की अव्वलीन तवज्जा है क्युंकि चीफ़ मिनिस्टर हैदराबाद को हर एतेबार से आलमी मयार का शहर बनाने का अज़म रखते हैं।

उन्हों ने हैदराबाद और साइबराबाद के पुलिस कमिश्नर्स को मुस्तइद और मुतहर्रिक ओहदेदार क़रार दिया और कहा कि वो जराइम पर क़ाबू पाने पुलिस गशत में इज़ाफ़ा-ओ-दुसरे इक़दामात कररहे हैं।

उन्होंने वज़ाहत की के 2012 में हैदराबाद और रंगारेड्डी में रहज़नी के 156 और चैन छीनने के 1485 वाक़ियात पेश आए और अली उल-तरतीब 70 और 55 फ़ीसद रीकवरी हुई। 2013 में रहज़नी के 121 और चैन छीनने के 1716 वाक़ियात पेश आए।

जारीया साल रहज़नी के 186-ओ-चैन छीनने के 1187 वाक़ियात पेश आए हैं और इन में अली उल-तरतीब 60और 62फ़ीसद माल बरामद किया गया। उन्होंने कहा कि पुलिस को असरी बनाते हुए जराइम की रोक थाम के इक़दामात किए गए हैं।

TOPPOPULARRECENT