Monday , December 18 2017

इकलेती मसाइल पर इजतिमाई ग़ौर ज़रूरी: सलमान ख़ूर्शीद

जयपुर, 23 जून: ( पी टी आई ) वज़ीर ए ख़ारेजा सलमान ख़ूर्शीद ने आज कहा कि अक्लीयतों को दरपेश मसाइल और चैलेंज पर तमाम सियासी जमाअतों को मिल जल कर ग़ौर करना चाहीए ताकि उनका मंतक़ी हल दरयाफ्त हो सके ।

जयपुर, 23 जून: ( पी टी आई ) वज़ीर ए ख़ारेजा सलमान ख़ूर्शीद ने आज कहा कि अक्लीयतों को दरपेश मसाइल और चैलेंज पर तमाम सियासी जमाअतों को मिल जल कर ग़ौर करना चाहीए ताकि उनका मंतक़ी हल दरयाफ्त हो सके ।

यहां एक सेमिनार से ख़िताब में उन्होंने कहा कि अवाम को सियासी जमाअतों से शिकायात हैं । इनका अज़ाला उसी वक़्त हो सकता है जब क़ाइदीन सियासी वाबस्तगियों से बालातर होकर इन मसाइल पर ग़ौर करें। तहफ़्फुज़ात के मसले पर उन्होंने कहा कि इसका इंतेख़ाबात से कोई ताल्लुक़ नहीं है जैसा कुछ लोग कहते हैं।

उन्होंने कहा कि तहफ़्फुज़ात या कोटा का मसला इंतेख़ाबात से ताल्लुक़ नहीं रखता । जब वोट गिने जाते हैं और जम्हूरियत में उन्हें अहमियत है तो फिर कुछ अफ़राद को वोट बैंक की सियासत मसला क्यों है ? । उन्होंने कहा कि वोटों की ख़ाहिश मौज़ू बहस नहीं बननी चाहीए इसकी बजाय वोट हासिल करने की बुनियादों पर तबादला ख़्याल होना चाहीए ।

TOPPOPULARRECENT