Monday , December 11 2017

इजतिमाई शादीयों केलिए दरख़ास्तों की तलबी

ज़िला आदिल आबाद माइनारीटी वीलफ़ीर ऑफीसर मिस्टर एम ए ग़फ़्फ़ार की इत्तिला के बमूजब मुस्लिम लड़कीयों की तक़रीब इजतिमाई शादीयों का इनइक़ाद अमल में लाया जा रहा है इस ख़सूस में राशन कार्ड आमदनी सदाक़त नामा और दरख़ास्त फ़ार्म के साथ एक अदद त

ज़िला आदिल आबाद माइनारीटी वीलफ़ीर ऑफीसर मिस्टर एम ए ग़फ़्फ़ार की इत्तिला के बमूजब मुस्लिम लड़कीयों की तक़रीब इजतिमाई शादीयों का इनइक़ाद अमल में लाया जा रहा है इस ख़सूस में राशन कार्ड आमदनी सदाक़त नामा और दरख़ास्त फ़ार्म के साथ एक अदद तस्वीर जिस लड़की की शादी की जा रही है मुंसलिक करते हुए मुताल्लिक़ा मंडल परिषद डीवलपमनट ऑफीसर के पास दाख़िल करना होगा ।

मुस्तक़र आदिल आबाद के अफ़राद माइनारीटी वीलफ़ीर दफ़्तर में पेश करसकते हैं । दरख़ास्तें 16 अप्रैल तक क़बूल की जा रही हैं । रियास्ती हुकूमत की जानिब से ग़रीब मुस्लिम लड़कीयों की शादी केलिए फी कस पंद्रह हज़ार रुपय मुख़तस किए गए हैं जिन में क़ुरआन मजीद पलंग बिस्तर दो ग्राम सोने का ज़ेवर दुल्हन और नौशा केलिए कपड़े और जहेज़ ज़रूरी अशीया भी दी जाएगी । मिस्टर एम ए ग़फ़्फ़ार माइनारीटीज़ वीलफ़ीर ऑफीसर ने ग़रीब अफ़राद के ख़ानदानों से ख़ाहिश की है कि वो हुकूमत की जानिब से जारी इस स्कीम से इस्तिफ़ादा करें

TOPPOPULARRECENT