Friday , June 22 2018

इजराइल इन्टरनेशनल कानूनों को सबसे ज्यादा तोड़ता है: महमूद अब्बास

images(21)

जकार्ता । फ़िलिस्तीनी प्रशासन के प्रमुख ने ज़ायोनी शासन को अंतर्राष्ट्रीय क़ानूनों का सबसे बड़ा उल्लंघनकर्ता बताया है।
महमूद अब्बास ने सोमवार को इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में इस्लामी सहयोग संगठन ओआईसी के आपात शिखर सम्मेलन में अपने भाषण में कहा कि ज़ायोनी शासन के अतिक्रमणों के कारण फ़िलिस्तीन की 80 प्रतिशत से अधिक जनता बेघर हो चुकी है।

उन्होंने मस्जिदुल अक़सा पर ज़ायोनी अतिग्रहणकारियों के हमले जारी रहने की ओर संकेत करते हुए कहा कि यह हमले बैतुल मुक़द्दस शहर से, उसके वास्तिविक निवासियों अर्थात फ़िलिस्तीनियों को बाहर निकालने के लिए किए जा रहे हैं।

फ़िलिस्तीनी प्रशासन के प्रमुख ने इसी प्रकार फ़िलिस्तीन की अर्थव्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए विशेष कार्यक्रम तैयार किए जाने की ज़रूरत पर बल दिया और कहा कि इस्राईल, फ़िलिस्तीनी क्षेत्रों में अपने अतिग्रहण को अधिक लम्बा खींचने की नीति पर अमल कर रहा है। ओआईसी का आपात शिखर सम्मेलन रविवार से जकार्ता में शुरू हुआ है जिसका शीर्षक है, न्यापूर्ण व स्थायी समाधान को व्यवहारिक बनाने के लिए एकता।

TOPPOPULARRECENT