इटली: पनाह गुज़ीनों के लिए जगह नहीं

इटली: पनाह गुज़ीनों के लिए जगह नहीं
इटली में तारकीने वतन को पनाह देने वाले मराकज़ में जगह कम पड़ती जा रही है। हुक्काम के बाक़ौल गुज़िश्ता महीनों के दौरान तारकीने वतन की एक कसीर तादाद ने इटली का रुख़ किया है।

इटली में तारकीने वतन को पनाह देने वाले मराकज़ में जगह कम पड़ती जा रही है। हुक्काम के बाक़ौल गुज़िश्ता महीनों के दौरान तारकीने वतन की एक कसीर तादाद ने इटली का रुख़ किया है।

खासतौर पर सेसली में क़ायम मराकज़ में जगह इस क़दर महिदूद हो गई है कि अब इन में मज़ीद अफ़राद को पनाह नहीं दी जा सकती। ख़ुशगवार मौसम की वजह से अफ़्रीक़ा से आने वाले तारकीने वतन की तादाद में शदीद इज़ाफ़ा हुआ है। गुज़िश्ता जुमा से अब तक इतालवी हुक्काम चार हज़ार अफ़राद को डूबने से बचा चुके हैं।

Top Stories