Wednesday , December 13 2017

इदारा सियासत और क़ौंसिलख़ाना ईरान के तआवुन से ख़त्ताती-ओ-दस्तकारी नुमाइश की ख़ाहिश

हैदराबाद 06 जून: क़ौंसिलख़ाना ईरान हैदराबाद इदारा सियासत के साथ मुशतर्का तौर पर ख़त्ताती और दस्तकारी की नुमाइश का इनइक़ाद अमल में लाएगा।

हैदराबाद 06 जून: क़ौंसिलख़ाना ईरान हैदराबाद इदारा सियासत के साथ मुशतर्का तौर पर ख़त्ताती और दस्तकारी की नुमाइश का इनइक़ाद अमल में लाएगा।

कौंसिल जनरल ईरान मुतयना हैदराबाद आग़ा हुस्न नुरयान ने आज एडीटर सियासत जनाब ज़ाहिद अली ख़ां से मुलाक़ात के दौरान इन ख़्यालात का इज़हार किया।

उन्होंने इदारा सियासत की तरफ से अंजाम दी जाने वाली फ़लाही सरगर्मीयों की सताइश करते हुए कहा कि इदारा सियासत के ज़ेर-ए‍एहतेमाम अंजाम दी जाने वाली सरगर्मीयां क़ाबिल फ़ख़र हैं।

जनाब आग़ा हुस्न नुरयान ने ख़त्ताती और दस्तकारी की नुमाइश क़ौंसिलख़ाना के अहाते में मुनाक़िद करने से मुताल्लिक़ दिलचस्पी का इज़हार करते हुए कहा कि ख़त्ताती के फ़रोग़ के ज़रीये रस्म उलख़त की ख़ूबसूरती और उर्दू-ओ-फ़ारसी के अलावा अरबी ज़बान के फ़रोग़ में अहम किरदार अदा किया जा सकता है।

उन्होंने इदारा सियासत के ज़ेर-ए‍एहतेमाम अंजाम दी जाने वाली ख़िदमात के मुताल्लिक़ भी तफ़सीली आगही हासिल की। जनाब ज़हीरउद्दीन अली ख़ां मैनेजिंग एडिटर रोज़नामा सियासत ने कौंसिल जनरल को तफ़सीलात से वाक़िफ़ करवाया।

क़ब्लअज़ीं कौंसिल जनरल ईरान ने जनाब ज़ाहिद अली ख़ां से मुलाक़ात के दौरान मुख़्तलिफ़ उमोर पर तबादला-ए-ख़्याल किया। उन्होंने हिंद, ईरान दोस्ती के अलावा जुनूबी हिंद खास्कर सरज़मीन दक्कन हैदराबाद से ईरान के क़दीम मेल मीलाप का तज़किरा करते हुए कहा कि हैदराबाद और ईरान की तहज़ीब तक़रीबन एकजेसि है।

उन्होंने ईरान में मौजूद हिन्दुस्तानियों के अलावा हिन्दुस्तान में मौजूद ईरानियों के मुताल्लिक़ भी तफ़सीली तबादला-ए-ख़्याल किया। जनाब ज़ाहिद अली ख़ां ने कौंसिल जनरल को हिंद, ईरान मेल मीलाप के मुताल्लिक़ तजावीज़ पेश करते हुए कहा कि अरसा-ए-दराज़ से हिन्दुस्तान, ईरान का गहिरा दोस्त रहा है और उन्होंने तवक़्क़ो ज़ाहिर की के मुस्तक़बिल में भी हिंद, ईरान ताल्लुक़ात मज़ीद बेहतर होंगे।

जनाब ज़ाहिद अली ख़ां ने इदारा सियासत की तरफ् से शाय करदा ग्लिमसज़ आफ़ निज़ाम्स डोमिनियन और अक्स हैदराबाद दोनों एल्बम का तोहफ़ा कौंसिल जनरल ईरान को पेश किया।

इस मौके पर अल्लामा एजाज़ फ़र्ख़ के अलावा कौंसिल ईरान आग़ा अली पारयाद, आग़ा अली अकबर नरोमनद चीफ़ पी आर ओ कौंसिलख़ाना ईरान मौजूद थे।

जनाब ज़ाहिद अली ख़ां और कौंसिल जनरल ईरान आग़ा हुस्न नुरयान के दरमयान हुई गुफ़्तगु में रियासत-ओ‍मुल्क के सयासी हालात के अलावा मआशी उमोर भी शामिल रहे।

एडीटर सियासत और कौंसिल जनरल ईरान ने गुफ़्तगु के दौरान हिंद, ईरान ताल्लुक़ात को बेहतर बनाने के लिए हिंद, ईरान दोस्ती के मुशतर्का प्रोग्राम्स का आग़ाज़ करने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया ताके अवाम से अवाम के मेल् मीलाप् को यक़ीनी बनाया जा सके।

कौंसिल जनरल ईरान ने इस तजवीज़ पर संजीदगी से ग़ौर करते हुए इसे अमली शक्ल देने का याकिन् दिया और कहा कि इस सिम्त में बहुत ज़्यादा वसीअ काम अंजाम दिए जा सकते हैं। चूँके हैदराबाद और ईरान के क़दीम मेल मीलाप् रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT