Tuesday , December 12 2017

इन्फॉर्मेशन टेक्नालोजी के मैदान में हैदराबाद को ख़ुसूसी अहमियत

रियासती हुकूमत ने कहा कि इन्फॉर्मेशन टेक्नालोजी शोबा (क्षेत्र) में शहर हैदराबाद को सर-ए-फ़ेहरिस्त अहमियत का हामिल मर्कज़ बनाने के लिये इक़दामात किए जाएंगे क्यों कि फ़िलवक़्त दुनिया के 41 अहम शहरों में हैदराबाद शहर को आई टी शोबा (

रियासती हुकूमत ने कहा कि इन्फॉर्मेशन टेक्नालोजी शोबा (क्षेत्र) में शहर हैदराबाद को सर-ए-फ़ेहरिस्त अहमियत का हामिल मर्कज़ बनाने के लिये इक़दामात किए जाएंगे क्यों कि फ़िलवक़्त दुनिया के 41 अहम शहरों में हैदराबाद शहर को आई टी शोबा (क्षेत्र) में 17 वां मुक़ाम हासिल है लिहाज़ा हैदराबाद शहर को आई टी शोबा (क्षेत्र) में सर-ए-फ़हरिस्त लाने के लिये कोई कसर बाक़ी नहीं रखी जाएगी । जब कि अब तक ही कई एक क़ौमी-ओ-बैनुल-अक़वामी सतह (International level) के इन्फॉर्मेशन टेक्नालोजी इदारे हैदराबाद को अपना मर्कज़ बनाते हुए अपनी सरगर्मियों को जारी रखे हुए हैं ।

आज यहां सेक्रेटरीयट में अख़बारी नुमाइंदों से बात चीत करते हुए रियासती वज़ीर इन्फॉर्मेशन टेक्नालोजी-ओ-कम्युनिकेशन मिनिस्टर पी लक्ष्मिया ने ये बात कही और बताया कि रियासत बिलख़सूस शहर हैदराबाद के मुक़ाम पर आई टी शोबा (क्षेत्र) में सरमायाकारी करने से आई टी सनअत कारों (उद्दोगपती) में दिलचस्पी पैदा करने और तरग़ीब देने के इलावा इन्फॉर्मेशन टेक्नालोजी शोबा (क्षेत्र) में असरी तरक़्क़ी को यक़ीनी बनाने के लिये 21 और 22 जून को बैनुल-अक़वामी सतह (International level) पर आई टी कंपनियों के चीफ एगज्क्युटिव आफिसर्स के साथ हैदराबाद में अहम इजलास मुनाक़िद किया जा रहा है और इस इजलास के इनइक़ाद (आयोजन)को कामयाब बनाने के लिये ना सिर्फ मुख़्तलिफ़ ममालिक बिलख़सूस दुबई , अमेरीका और लंदन वगैरह में रोड शोज़ मुनज़्ज़म किये जा रहे हैं ।

वज़ीर आई टी ने कहा कि डेनमार्क से ताल्लुक़ रखने वाले एक आई टी सनअत कार (उद्दोगपति) ने अपनी आई टी कंपनी हैदराबाद में क़ायम कर के अपनी तमाम तर सरगर्मियां शहर हैदराबाद से जारी रखने के लिये पहल की है और तवक़्क़ो है कि इबतदा में इस डेनमार्क की आई कंपनी में 200 आई टी मुलाज़मीन की ख़िदमात हासिल कर के सरगर्मियों-ओ-कारोबार का आग़ाज़ किया जाएगा । वज़ीर मौसूफ़ ने कहा कि बहरसूरत (किसी भी कीमत पर) हुकूमत रियासत में आई टी शोबा (क्षेत्र) की तेज़ तर तरक़्क़ी के लिये मूसिर-ओ-मुसबत इक़दामात करेगी ।

TOPPOPULARRECENT