इबोला के असरात अभी भी तशवीशनाक डब्लयू ऐच ओ

इबोला के असरात अभी भी तशवीशनाक डब्लयू ऐच ओ

जिनेवा: दुनिया-भर के 25 से ज्यादा देश‌ में फैल चुके मोहलिक कोरोना वाइरस के क़हर के बीच‌ आलमी उदार हुई सेहत (डब्लयू ऐच ओ ने बुधवार‌ के रोज़ कहा कि इबोला वाइरस अभी भी अंतरराष्ट्रीय लम्हा चिंता का है, जो अगस्त 2018 में डैमोक्रेटिक रीपब्लिक आफ़ कांगो से फैलना शुरू हुआ था।

डब्लयू ऐच ओ के डायरेक्टर टेडरोस आदिनोम ने कहा कि ये डब्लयू ऐच ओ की आपातकालीन समिति की सर्वसम्मति थी कि कांगो में इबोला का गुस्सा अभी भी चिंताजनक था। उन्होंने कहा कि डब्ल्यूएचओ की चिंता खसरा और देश के लिए थी। हैजा सहित अन्य बीमारियों के क़हर को कम किया जाये जिससे मुल्क में सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल को वापस लेने के प्रयासों में सकारात्मक परिणाम मिल सकते हैं।

Top Stories