Wednesday , December 13 2017

इमरान, ताहिरुल क़ादरी की फ़ौजी सरब्राह से तवील मुलाक़ात

पाकिस्तान के दो एहतेजाजी सियासतदानों तहरीके इंसाफ़ के सरब्राह इमरान ख़ान और अवामी तहरीक के सरब्राह डॉक्टर ताहिरुल क़ादरी ने कल रात के अंधेरे में आर्मी चीफ़ जेनरल राहील शरीफ़ से रावलपिंडी में अलग अलग मुलाक़ात की है। आर्मी चीफ़ चार घं

पाकिस्तान के दो एहतेजाजी सियासतदानों तहरीके इंसाफ़ के सरब्राह इमरान ख़ान और अवामी तहरीक के सरब्राह डॉक्टर ताहिरुल क़ादरी ने कल रात के अंधेरे में आर्मी चीफ़ जेनरल राहील शरीफ़ से रावलपिंडी में अलग अलग मुलाक़ात की है। आर्मी चीफ़ चार घंटे तक दोनों लीडरों की गुफ़्तगु और इन्क़िलाबी अफ़्क़ार समाअत करते रहे हैं।

इस में उन्हों ने बार बार इस बात पुर इसरार किया है कि वज़ीरे आज़म नवाज़ शरीफ़ जुमा तक मुस्ताफ़ी हो जाएं, वर्ना बहुत हंगामा बरपा होगा। जुमेरात की शब तक़रीबन ग्यारह बजे इमरान ख़ान पार्लीयामेंट हाउस के सामने डी चौक में अपनी जमात के धरने के शुर्का से ख़िताब के बाद अचानक आर्मी चीफ़ से मुलाक़ात के लिए चल दिए थे।

उन के साथ उन की जमात के अरबपती सीनियर रहनुमा जहांगीर तरीन थे और वही उन की गाड़ी चला रहे थे। उन्हों ने आर्मी चीफ़ जेनरल राहील शरीफ़ से क़रीबन एक घंटे तक मुलाक़ात की। ज़राए के मुताबिक़ इस मुलाक़ात में वज़ीरे दाख़िला चौधरी निसार अली ख़ान और पाक फ़ौज के खु़फ़ीया इदारे इंटर सर्विसेज़ इंटेलिजेन्स (आई एस आई) के सरब्राह लेफ़्टीनेंट जेनरल ज़हीरुल इस्लाम भी मौजूद थे।

चौधरी निसार हुकूमत की नुमाइंदगी कर रहे थे। पाक फ़ौज के शोबा ताअलुकाते आमा (आई एस पी आर) के डायरेक्टर जेनरल, मेजर जेनरल आसिम सलीम बाजवा ने ट्वीटर पर ये इत्तिला दी है कि आर्मी चीफ़ से इमरान इमरान ने कहा कि अगर वज़ीरे आज़म के इस्तीफ़े का एलान कर दिया जाता है तो फिर हम जश्न मनाएंगे।

अगर वज़ीरे आज़म के इस्तीफ़े से मुताल्लिक़ उन का मुतालिबा नहीं माना जाता है तो वो फिर अपने आइन्दा के लाएह अमल का एलान करेंगे।

TOPPOPULARRECENT