Friday , September 21 2018

इमर्जेंसी के दौरान सुप्रीम कोर्ट हमारी उम्मीदों पर विफल रहा- रविशंकर प्रसाद

नई दिल्ल। न्यायपालिका और कार्यपालिका के बीच मतभेदों का सिलसिला जारी है। केंद्र सरकार पर सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस टी एस ठाकुर के तल्ख टिप्पणी पर कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने असहमति जतायी है।

वहीं रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आपातकाल के दौरान सभी हाईकोर्ट ने साहस व संकल्प दिखाया लेकिन सुप्रीम कोर्ट हमारी उम्मीदों पर विफल रहा। उन्होंने कहा कि अदालतें अवश्य ही सरकार के आदेशों को खारिज करें लेकिन शासन अवश्य ही उन लोगों के हाथों में रहना चाहिए जिन्हें शासन करने के लिए चुना गया है।

अटार्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने विधी दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में कहा कि ‘न्यायपालिका समेत सभी अपनी लक्ष्मणरेखा की पहचान करें और आत्ममंथन के लिए तैयार रहें। इससे पहले चीफ जस्टिस तीरथ सिंह ठाकुर ने एक बार फिर आज उच्च न्यायालयोें और न्यायाधिकरणों में न्यायाधीशों की कमी का मामला उठाया था।

TOPPOPULARRECENT