Monday , December 11 2017

इमाम पर पेशी के दौरान हमला

नवरात्र के दौरान होने वाले गरबा फेस्टिवल को लेकर मुतनाज़ा बयान देने वाले इमाम मेहंदी हसन की जब कोर्ट में पेशी हुई तो एक शख्स ने उन्हें थप्पड़ जड़ दिया| थप्पड़ मारे जाने पर मेहंदी हसन गिर गए| पुलिस ने हमला करने वाले दोनों नौजवानों को गि

नवरात्र के दौरान होने वाले गरबा फेस्टिवल को लेकर मुतनाज़ा बयान देने वाले इमाम मेहंदी हसन की जब कोर्ट में पेशी हुई तो एक शख्स ने उन्हें थप्पड़ जड़ दिया| थप्पड़ मारे जाने पर मेहंदी हसन गिर गए| पुलिस ने हमला करने वाले दोनों नौजवानों को गिरफ्तार कर लिया|

इससे पहले मंगल के रोज़ इमाम को पुलिस ने नाडियाद के रुस्तमपुरा इलाके से गिरफ्तार किया|उनके खिलाफ विश्व हिंदू परिषद के रितेष सुथार ने एफआईआर दर्ज कराई थी|सुथार ने इमाम पर हिंदुओं के जज़्बातों को मजरूह करने का इल्ज़ाम लगाया था|

हसन पर इल्ज़ाम है कि उन्होंने नवरात्रि के दौरान किए जाने वाले गरबा पर काबिल ऐतराज़ बयान दिया था|हसन ने मुबय्यना तौर पर कहा था कि नवरात्रों में मुनाकिद होने वाला गरबे पर शैतानो/ राक्षसों का कब्जा हो गया है|उन्होंने कहा था कि गरबा मज़हबी त्योहार नहीं, बल्कि शैतानो की तफरीह का ज़रिया बन गया है| उन्होंने कहा था कि इस दौरान लोग भड़काऊ कपड़े पहनकर नाचते हैं|हसन के मुताबिक, संत गरबा में नजर नहीं आते हैं| मामले के तूल पकड़ने पर वह अंडरग्राउंड हो गए थे|

विश्व हिंदू परिषद समेत दिगर हिन्दूवादी तंज़ीमों ने इमाम की गिरफतारी नहीं होने पर रियासती सतह की तहरीक का इंतेबाह दिया था|

गौरतलब है कि इमाम हसन गुजरात के उस वक्त के सीएम नरेंद्र मोदी को टोपी पहनाने की कोशिशों के बाद सुर्खियों में आए थे| ये वही इमाम हैं जिन्होंने 2011 में नरेंद्र मोदी को मंच पर टोपी पहनने के लिए दी थी, लेकिन मोदी ने उसे पहनने से इन्कार कर दिया था| बताया गया है कि कोर्ट में पेशी के वक्त लोगों के बीच खड़े राजेश नाम के शख्स ने उन्हें थप्पड़ मार दिया| पुलिस ने उसे फौरन हिरासत में ले लिया|

खेड़ा जिला पुलिस ने उन्हें मंगल के रोज़ काबिल ऐतराज़ बयान देने के इल्ज़ाम में गिरफ्तार किया था|मेहंदी हसन पर मज़हबी जज़्बातों के खिलाफ बयान देने का इल्ज़ाम है|उनके बयान पर विश्व हिंदू परिषद और दिगर तंज़ीमों की मुखालिफत के बाद खेड़ा जिला पुलिस ने यह कार्रवाई की|

TOPPOPULARRECENT