Tuesday , January 23 2018

इमारत-ए-शरिया बिहार, झारखंड व ओड़िशा के चीफ़ काजी मौलाना जसीमुद्दीन रहमानी का इंतकाल

फुलवारीशरीफ/पटना : इमारत-ए-शरिया बिहार, झारखंड व ओड़िशा के मुख्य काजी मौलाना जसीमुद्दीन रहमानी का बुधवार की दाेपहर तीन बजे इंतकाल हो गया. वह मौलाना सज्जाद मेमोरियल अस्पताल में भरती थे. वह 67 वर्ष के थे. मूल रूप से गया निवासी मौलाना जसीमुद्दीन रहमानी 1970 से इमारत-ए-शरिया से जुड़े और अंतिम सांस तक जुड़े रहे. वह छह माह से कैंसर से पीड़ित थे.

वह अपने पीछे पत्नी, चार बेटियां और दो बेटे छोड़ गये हैं. उनके इंतकाल से इमारत-ए-शरिया में शोक की लहर दौड़ गयी. उनके जनाजे की नमाज गुरुवार को नौ बजे इमारत-ए-शरिया परिसर में होगी और स्थानीय हाजी हरमेन कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक किया जायेगा. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनके इंतकाल पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है.

उन्होंने कहा, हजरत मौलाना जसीमुद्दीन साहब के इंतकाल की खबर से मैं बहुत दुखी हूं. वह चार दशक से भी अधिक समय से इमारत-ए-शरिया से जुड़े हुए थे. मुख्यमंत्री ने खुदा से दुआ की है कि वे उनके परिजनों व अनुयायियों को इस दुख को सहन करने की ताकत दें. इमारत-ए-शरिया के अमीर शरीयत सह ऑल इंडिया पर्सनल लॉ बोर्ड के महासचिव मौलाना सैयद वली रहमानी, सचिव मौलाना अनीसुर्रहमान कासमी, नायब नाजीम मौलाना सुहैल नदवी, मुफ्ती सनाउल होदा, नगर पर्षद के पूर्व चेयरमैन मो आफताब आलम समेत सामाजिक व धार्मिक संस्थानों के जुड़े लोगों ने भी शोक व्यक्त किया है.

TOPPOPULARRECENT