Monday , December 18 2017

इमारात हज हाउज़ में तलबीयह की गूंज, रूह परवर मंज़र

रियास्ती आज़मीने हज के 600 अफ़राद पर मुश्तमिल दो क़ाफ़िले आज शम्साबाद इंटरनेशनल एयरपोर्ट से सऊदी एयरलाइंस की ख़ुसूसी परवाज़ों के ज़रीए जद्दा के लिए रवाना हुए। इस तरह अब तक आज़मीने हज के जुमला 8 क़ाफ़िले सऊदी अरब रवाना हो चुके हैं।

रियास्ती आज़मीने हज के 600 अफ़राद पर मुश्तमिल दो क़ाफ़िले आज शम्साबाद इंटरनेशनल एयरपोर्ट से सऊदी एयरलाइंस की ख़ुसूसी परवाज़ों के ज़रीए जद्दा के लिए रवाना हुए। इस तरह अब तक आज़मीने हज के जुमला 8 क़ाफ़िले सऊदी अरब रवाना हो चुके हैं। सातवें और आठवीं क़ाफ़िले को आज हज हाउज़ से तलबीयह की गूंज में आर टी सी की ख़ुसूसी बसों के ज़रीए एयरपोर्ट रवाना किया गया।

सातवें क़ाफ़िला को रुक्न असेंबली मस्तान वली और स्पेशल ऑफीसर हज कमेटी प्रोफ़ेसर एस ए शकूर ने झंडी दिखाकर रवाना किया। जबकि रात में दूसरे क़ाफ़िला को वज़ीरे अक़लीयती बहबूद जनाब मुहम्मद अहमद उल्लाह ने विदा किया और इंतेज़ामात का जायज़ा लिया। दोनों फ़्लाईट्स में जुमला 600 आज़मीन ने सऊदी अरब के लिए परवाज़ की इस तरह अब तक हज कमेटी के जुमला 8000 आज़मीन से 2444 आज़मीन सऊदी अरब रवाना हो चुके हैं।

इंडियन एयरलाइंस की आज पहली परवाज़ दोपहर एक बजकर 5 मिनट पर रवाना हुई जबकि दूसरी परवाज़ रात 10 बजकर 25 मिनट पर रवाना हुई। हज हाउज़ से आज़मीने हज की रवानगी के मौक़ा पर हज कमेटी के इंतेज़ामात की प्रोफ़ेसर एस ए शकूर ने शख़्सी तौर पर निगरानी की और आज़मीने हज की रवानगी में दीगर ओहदेदारों और वालेन्टियर्स ने उन की इआनत की।

रियास्ती आज़मीने हज के 6 क़ाफ़िले मक्का मुअज़्ज़मा पहुंच गए और आज़मीन ने उमरा का फ़रीज़ा मुकम्मल कर लिया। क़ाफ़िलों के साथ जुमला 8 ख़ादिम भी सऊदी अरब रवाना हुए हैं। इन तीनों क़ाफ़िलों के आज़मीने हज की रिपोर्टिंग भी हज हाउज़ में मुकम्मल हो चुकी है। इतवार को तीन क़ाफ़िलों की रवानगी के बाद रियास्ती आज़मीने हज के 11 क़ाफ़िलों की रवानगी मुकम्मल हो जाएगी।

TOPPOPULARRECENT