Wednesday , December 13 2017

इराक़ में गुज़िश्ता दस साल में 1 लाख 12 हज़ार शहरी हलाक

बग़दाद 18 मार्च (ए एफ पी) 2003 में इराक़ पर अमरीकी हमला और सद्दाम हुसैन को इक्तेदार से बेदख़ल कर देने के बाद गुज़िश्ता दस साल के अंदर एक लाख 12 हज़ार शहरी हलाक कर दिए गए हैं।

बग़दाद 18 मार्च (ए एफ पी) 2003 में इराक़ पर अमरीकी हमला और सद्दाम हुसैन को इक्तेदार से बेदख़ल कर देने के बाद गुज़िश्ता दस साल के अंदर एक लाख 12 हज़ार शहरी हलाक कर दिए गए हैं।

आज शाय शूदा एक रिपोर्ट के बमूजिब हलाकतों की इस तादाद में दस साल तवील ख़ानाजंगी के दौरान लड़ाई में हिस्सा लेने वाले और हिस्सा ना लेने वाले शहरी शामिल हैं। आई बी सी ने कहा कि बर्सों से दारुल हुकूमत बग़दाद मुल्क का ख़तरनाक तरीन इलाक़ा बना हुआ है।

2006 और 2008 के दरमियान ख़ूँरेज़ी से इस शहर में जुमला हलाकतों की 48 फ़ीसद तादाद हलाक हो चुकी है।

TOPPOPULARRECENT