इराक में 40 हिंदुस्तानी शहरी अगवा, हजारों फंसे

इराक में 40 हिंदुस्तानी शहरी अगवा, हजारों फंसे
तशद्दुद का शिकार इराक में हजारों हिंदुस्तानी शहरी फंसे हुए हैं। बताया गया है कि इनमें से 40 हिंदुस्तानी कामगारों को अगवा कर लिया गया है। हालांकि किसी गुट ने अभी न तो इसकी जिम्मेदारी ली है और न ही कोई मांग रखी है।

तशद्दुद का शिकार इराक में हजारों हिंदुस्तानी शहरी फंसे हुए हैं। बताया गया है कि इनमें से 40 हिंदुस्तानी कामगारों को अगवा कर लिया गया है। हालांकि किसी गुट ने अभी न तो इसकी जिम्मेदारी ली है और न ही कोई मांग रखी है।

मरकज़ी हुकूमत अगवा हुए हिंदुस्तानी कामगारों की वापसी के लिए हर मुम्किना कोशिश कर रही है। इराक में हिंदुस्तान के साबिक सफीर सुरेश रेड्डी को समझौते के लिए भेजा गया है। रेड्डी को हाल ही में आसियान का खुसूसी सफीर मुकर्रर किया गया है। रेड्डी को इराक में अच्छे ताल्लुकात होने की वजह से यह जिम्मेदारी सौंपी गई है।

वज़ीर ए आज़म नरेंद्र मोदी ने खारेजा पालिसी के माहिरों और सलामती मुशीर को साफ कहा है कि अगवा हुए हिंदुस्तानियो की सही सलामती वापसी में कोई कोताही नहीं बरती जाए। उधर, भाजपा लीडर सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट किया है कि सरकार हिंदुस्तानियों को इराक से लाने के लिए खुसूसी तैय्यारे भेजे।

रिपोर्ट के मुताबिक इराक के मोसुल शहर में एक प्रोजेक्ट के लिए काम कर रहे 40 हिंदुस्तानियों को अगवा कर लिया गया है। अगवा हुए हिंदुस्तानी वहां तामीरी इलाके के काम में लगे थे। इन्हें अगवा करने के पीछे इस्लामिक स्टेट इन इराक एंड अल-शाम [आइएसआइएस] दहशतगर्दों के हाथ होने के इम्कान जताई जा रही है।

रिपोर्ट के मुताबिक, इराक के मोसुल शहर से जब इन हिंदुस्तानियों को निकाला जा रहा था, तभी इन्हें अगवा कर लिया गया। सुन्नी जेहादियों ने मोसुल शहर को अपने कब्जे में कर लिया था लेकिन मुकामी कुर्द मिलिसिया ने आइएसआइएस के दहशतगर्दों को खदेड़ कर इस शहर पर अपना कब्जा जमा लिया है।

Top Stories