इराक़: कुर्दिस्तान के उपराष्ट्रपति की गिरफ़्तारी का आदेश, हिंसा के लिए उकसाने का आरोप

इराक़: कुर्दिस्तान के उपराष्ट्रपति की गिरफ़्तारी का आदेश, हिंसा के लिए उकसाने का आरोप
Click for full image

इराक़ ने कुर्दिस्तान क्षेत्र के उपराष्ट्रपति कोसरत रसूल की गिरफ़्तारी का आदेश दिया है| सरकार ने आरोप लगाया है कि उपराष्ट्रपति ने इस हफ्ते किर्कुक के लिए भेजे गए सैनिकों को अपने पास बुलाने का आरोप है|

सर्वोच्च न्यायिक परिषद् के प्रवक्ता अब्दुल सत्तार अल-बिर्कदार ने कहा कि न्यायाकालय मानना है कि रसूल ने लोगों को हिंसा के लिए उकसाया है| इसलिए उन्हें दोषी मानते हुए उनके ख़िलाफ़ गिरफ़्तारी का आदेश दिया है| उन्होंने कहा की रसूल ने अपने शब्दों से सैनिकों को उकसाया है| बुधवार को रसूल ने एक बयान में कहा था कि किर्कुक में सैन्य अभियान एक और कुर्द नरसंहार है| उन्होंने किर्कुक शहर से बलों की वापसी पर निंदा की|

हालाँकि कुर्द के राष्ट्रपति मसूद बरज़ानी ने गिरफ़्तारी पर निंदा की है| उन्होंने कहा कि अदालत का फैसला राजनीतिक है  साफ साफ नज़र आता है| इससे स्पष्ट होता है कि बगदाद में सत्तारूढ़ की मानसिकता केसी है|

उन्होंने उपराष्ट्रपति का बचाव करते हुए कहा कि शांतिपूर्वक अपनी राय रखने में उसको दंडित किया जाना कहाँ तक सही है? क्या उसको बस इसी बात के लिए गिरफ्तार कर्ण अ चाहिए?|

रसूल को दोषी पाए जाने पर इराक़ी दंड संहिता धारा 226 के तहत 7 साल की सज़ा का सामना करना पड़ सकता है

 

शरीफ़ उल्लाह

Top Stories