Monday , December 18 2017

इराक़ में पनाह गुज़ीनों की हालते ज़ार पर एंजिलीना जूली को हैरत

हॉलीवुड की नामवर अदाकारा और इंसानी हुक़ूक़ के लिए अक़वामे मुत्तहिदा के प्लेटफार्म से दुनिया भर में मुतहर्रिक एंजिलीना जूली ने इराक़ में दाइश के मज़ालिम सहने वालों की हालते ज़ार को अब तक की सब से बड़ी मज़लूमियत का नाम दिया है।

हॉलीवुड की नामवर अदाकारा और इंसानी हुक़ूक़ के लिए अक़वामे मुत्तहिदा के प्लेटफार्म से दुनिया भर में मुतहर्रिक एंजिलीना जूली ने इराक़ में दाइश के मज़ालिम सहने वालों की हालते ज़ार को अब तक की सब से बड़ी मज़लूमियत का नाम दिया है।

जूली ने शुमाली इराक़ में उन मुतास्सिरीन और बेघरों के लिए क़ायम कैम्पों के दौरे के फ़ौरी बाद न्यूयार्क टाईम्स के लिए अपने एक कॉलम में कहा है, मैंने ऐसा ज़ुल्म पहले कभी नहीं देखा था, जैसा मैंने शुमाली इराक़ में देखा है।

इस लिए ज़रूरी है कि अब हम अहले मग़रिब अपनी इक़दार का दिफ़ा महज़ अपने घरों, दफ़ातिर, इदारों या अख़्बारात की हद तक ना करें बल्कि अब अपने इक़दार के तहफ़्फ़ुज़ के लिए पनाह गुज़ीनों के मशरिक़े वुस्ता में क़ायम कैम्पों तक जाना होगा और तबाही के बाद भूतों की बस्तीयों का रूप धार जाने वाले शहरों और कस्बों में क़दम रखना होगा।

जूली ने इस सिलसिले में बैनुल अक़वामी सतह से इक़दामात किए जाने पर भी ज़ोर दिया ताकि उन मुतास्सिरीन और मुसीबत ज़दों की मदद हो सके। हॉलीवुड की अदाकारा ने कहा: ये सब कुछ सुन कर और देख कर मैं दंग हो कर रह गई। लेकिन अब हमें अपने इक़दार के तहफ़्फ़ुज़ के लिए सिर्फ़ घरों में बैठ कर बातें नहीं करना हैं।

TOPPOPULARRECENT