Saturday , September 22 2018

इलाज के लिए नहीं हैं पैसे, बेटे को दो मरने की इजाज़त

उत्तरप्रदेश में रहने वाले एक परिवार ने अपने बेटे के लिए इच्छा मृत्यु की मांग की है। दरअसल, यूपी के आगरा में रहने वाले विपिन नाम के एक लड़के को अनीमिया है। बीमारी लाइलाज नहीं है लेकिन उसके पिता पर इलाज का खर्च उठाने के लिए पैसे नहीं हैं।

इसके लिए विपिन के पिता ने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को पत्र भी लिखा है। विपिन के पिता ने न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत करते हुए कहा, ‘कृपया मेरे बेटे का इलाज करवा दीजिए या फिर अगर इलाज संभव नहीं है तो उसे इच्छा मृत्यु की इजाजत दे दी जाए। हम लोग अब इलाज का खर्च नहीं उठा सकते।’

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने 2011 में निष्क्रिय इच्छामृत्यु को वैध करने का फैसला सुनाया था। इसमें कहा गया था कि जो शख्स काफी वक्त से बीमार हालत में स्थिर है उसे इच्छामृत्यु की इजाजत है। हालांकि, यह कानून उन लोगों के विषय में संशय पैदा करता है जिनका फिलहाल इलाज हो सकता है। भारत सरकार पिछले महीने इससे जुड़ा एक ड्राफ्ट बिल भी लेकर आई थी। उसमें लोगों को मुद्दे पर राय देने के लिए कहा गया था।

TOPPOPULARRECENT