Thursday , December 14 2017

इलाहाबाद को मिलेगा 15 सीएनजी पंप स्टेशनों की सौगात

इलाहाबाद: वर्ष 2019 में लगने वाले अर्द्ध कुंभ मेले के पूर्व शहर में डीजल चलित पब्लिक ट्रांसपोर्ट के सभी तरह के वाहन हट जाएंगे। इसके स्थान पर शहर में पब्लिक ट्रांसपोर्ट के तहत चलने वाले सभी वाहन सीएनजी से लैस होंगे। शहर में सीएनजी को बढ़ावा देने के लिए कुल 15 सीएनजी पंप स्टेशन बनाने की तैयारी की गई है। इंडियन ऑयल अडाणी गैस प्राइवेट लिमिटेड की ओर से अर्द्ध कुंभ मेले के पूर्व सभी पंप स्टेशन को बनाने की तैयारी की गई है। बता दें कि पिछले साल 20 दिसंबर को ही इलाहाबाद में पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पीएनजी और कंप्रेस्ड नेचुरल गैस (सीएनजी) की शुरूआत की थी। इलाहाबाद में अब तक कुल तीन सीएनजी स्टेशन बनाए जा चुके हैं। दो पंप स्टेशन सिविल लाइंस और एक झूंसी में बनाया गया है। सीएनजी लाने का मुख्य मकसद यही था कि प्रदूषण कम किया जाए। इसके लिए चरणबद्ध तरीके से शहर में पब्लिक ट्रांसपोर्ट के तहत चल रहे डीजल चलित वाहनों को बाहर करना था। शहर में डीजल से चल रहे टेंपो, विक्रम आदि को जून माह के बाद बाहर किया जा सकता है। इस वजह से अब जो भी नये टेंपो, विक्रम, टैक्सी शहरी सीमा में चल रहे हैं वे सभी सीएनजी से लैस है। सीएनजी से चलने वाले वाहनों की संख्या बढ़ने के साथ ही इंडियन ऑयल अडाणी गैस लिमिटेड की ओर से सीएनजी पंप स्टेशन की संख्या बढ़ाने शुरू कर दी है। इसकी शुरुआत कानपुर रोड स्थित एक पंप से की जा रही है। यहां शीघ्र ही एक और सीएनजी स्टेशन का निर्माण हो जाएगा। इंडियन ऑयल अडाणी गैस प्राइवेट लिमिटेड के असिस्टेंट मैनेजर विकल्प शुक्ला के मुताबिक शहर को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए सीएनजी को बढ़ावा दिया जा रहा है। इसलिए सीएनजी पंप स्टेशनों की संख्या आगे बढ़ाई जाएगी।

TOPPOPULARRECENT