Saturday , July 21 2018

इलेक्शन कमिशन के पास दोबारा पहुंचा शरद यादव का गुट

नई दिल्ली। चुनाव आयोग से असली जदयू का दावा खारिज किये जाने के बाद शरद यादव गुट ने एक बार फिर चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया है।

शरद गुट का दावा है कि चुनाव आयोग ने उनके प्रार्थना पत्र को खारिज नहीं किया है, बल्कि उसे देखा ही नहीं। न देखने का आधार यह रहा कि चुनाव आयोग को सौंपे आवेदन में किसी का हस्ताक्षर नहीं था।

और ना ही उससे संबंधित साक्ष्य जमा कराया गया था। चूंकि आवेदन वकील के माध्यम से भेजा गया था, इसलिए उस पर हस्ताक्षर नहीं किया गया।

हस्ताक्षर न होने का आधार बनाते हुए चुनाव आयोग ने उस आवेदन को देखा ही नहीं। शरद गुट ने इस बार हस्ताक्षरयुक्त आवेदन चुनाव आयोग को सौंपा है तथा साक्ष्य के लिए चार हफ्ते का समय मांगा है।

जदयू से निष्कासित पूर्व महासचिव अरुण कुमार श्रीवास्तव ने मीडिया से बातचीत में कहा कि हमलोगों ने पहले भी चुनाव आयोग से यही कहा था कि जदयू को बनाने में हमलोगों का हाथ है, हमलोगों ने मेहनत कर बनाया है। इसलिए इस पर हमलोगों का असली दावा है।

TOPPOPULARRECENT