इशरत जहां का हलफ़नामा सियासी वजूहात की बिना पर तबदील सिंह

इशरत जहां का हलफ़नामा सियासी वजूहात की बिना पर तबदील सिंह

नई दिल्ली: मबाहिस में शिरकत करते हुए साबिक़ मोतमिद दाख़िला आर के सिंह ने आज दावा किया कि मुतनाज़ा इशरत जहां मुक़द्दमे में हलफ़नामा सियासी वजूहात की बिना पर तबदील कर दिया गया।

अहम सवाल ये है कि किस ने इस तबदीली का हुक्म दिया था और किस वजह से दिया था। वाज़िह तौर पर उस के पस-ए-पर्दा सियासत थी। आर के सिंह के पेशरू जी के पल्ले ने कहा कि साबिक़ मर्कज़ी वज़ीर-ए-दाख़िला पी चिदम़्बरम ने हलफ़नामे में तबदीली की थी। जिसमें पहले कहा गया था कि इशरत जहां और इस के महलूक बाएतिमाद साथी लश्कर‍-ए‍-तैय‌बा कारकुन थे|

Top Stories