Saturday , January 20 2018

इशरत जहां मामला अदालत में दो साल से कोई प्रगति नहीं

अहमदाबाद: इशरत जहां कथित फ़र्ज़ी एनकाउंटर  मामले में जारी राजनीतिक खींचतान के बावजूद यह मामला पिछले दो साल से सीबीआई अदालत में मौजूद है। आईबी अधिकारियों के खिलाफ सीबीआई ने जो चार्जशीट पेश की उसकी वजह मुकदमेबाजी के लिए अदालत को केंद्र की मंजूरी का इंतेजार है।

सीबीआई ने इशरत जहां और तीन अन्य के एनकाउंटर मामले में दो आरोपपत्र पेश किए हैं। पहली चार्जशीट जुलाई 2013 में सात पुलिस अधिकारियों के खिलाफ पेशकश की। इसमें सीबीआई ने कहा कि यह एनकाउंटर फर्जी और गुजरात पुलिस व खुफिया ब्यूरो की कार्य‌वाई थी।

दूसरी चार्जशीट फरवरी 2014 में पेश की गई। हालांकि सीबीआई ने चार्जशीट में जिन चार आईबी अधिकारियों के नाम शामिल हैं उनके खिलाफ मुकदमेबाजी के लिए केंद्रीय कानून मंत्रालय से अनुमति प्राप्त नहीं की।

TOPPOPULARRECENT