इशरत जहां फ़र्ज़ी अनकाउंटर मुक़द्दमा

इशरत जहां फ़र्ज़ी अनकाउंटर मुक़द्दमा
नई दिल्ली उनके अमीन की दरख़ास्ते ज़मानत मुस्तरद

नई दिल्ली

उनके अमीन की दरख़ास्ते ज़मानत मुस्तरद

सुप्रीम कोर्ट ने आज 2004इशरत जहां उनकाउंटर मुक़द्दमे में गुजरात पुलिस ऑफीसर उनके अमीन की दरख़ास्ते ज़मानत मुस्तरद करदी। जस्टिस वी गोपाल गोड्डा और जस्टिस सी नागपन पर मुश्तमिल बेंच ने कहा कि इस दरख़ास्त में कोई अहम बात दिखाई नहीं देती लिहाज़ा उसे मुस्तरद किया जाता है।

उन के अमीन को सुहराबुद्दीन शेख फ़र्ज़ी अनकाउंटर मुक़द्दमे में ज़मानत मंज़ूर की गई थी। इशरत जहां मुक़द्दमे में उन्हें राहत देने से बंबई हाइकोर्ट के इनकार पर वो सुप्रीम कोर्ट से रुजू हुए थे। क़ब्ल अज़ीं सी बी आई ने सुहराबुद्दीन मुक़द्दमे में इन अमीन की दरख़ास्त को मंसूख़ करने केलिए इसरार नहीं किया और ये उज़्र पेश किया था कि इसी मुक़द्दमे के एक और मुल्ज़िम को ज़मानत दी जा चुकी है।

गुज़िश्ता साल 11 नवंबर को बेंच ने इशरत जहां मुक़द्दमे में उन के अमीन की दरख़ास्त की समाअत मुकम्मल करली। उस वक़्त उन के अमीन ने ये कहा था कि उन्हें ज़मानत दी जानी चाहिए क्योंकि सी बी आई मुक़र्ररा 90 दिन की मुद्दत में चार्ज शीट मुकम्मल करने में नाकाम रही। उन के अमीन सुहराबुद्दीन मुक़द्दमे में भी मुआविन मुल्ज़िम हैं और उन्हें 4 अप्रैल 2013 को इशरत जहां मुक़द्दमे में गिरफ़्तार किया गया था।

Top Stories