Sunday , December 17 2017

इसराईली तय्यारों ( विमानो) की बमबारी , दो मसाजिद निशाना

गाज़ा पट्टी, ०९ अक्तूबर ( एजेंसी ) फ़लस्तीनी महसूर शहर गाज़ा पट्टी के जुनूब ( दक्षिण) में रफा बॉर्डर के क़रीब सहयोनी फ़ौज (Israeli forces) के एफ़ 16 जंगी जहाज़ों (लड़ाकू विमानो) ने रात गए बमबारी की है जिस के नतीजे में कम से कम दस अफ़राद (लोग) ज़ख्मी हो गए है

गाज़ा पट्टी, ०९ अक्तूबर ( एजेंसी ) फ़लस्तीनी महसूर शहर गाज़ा पट्टी के जुनूब ( दक्षिण) में रफा बॉर्डर के क़रीब सहयोनी फ़ौज (Israeli forces) के एफ़ 16 जंगी जहाज़ों (लड़ाकू विमानो) ने रात गए बमबारी की है जिस के नतीजे में कम से कम दस अफ़राद (लोग) ज़ख्मी हो गए हैं।

ज़ख्मीयों में से बाअज़ ( कुछ) की हालत नाज़ुक बताई जाती है। मर्कज़ इत्तिलाआत फ़लस्तीन के नामानिगार ( संवाददाता/ Reporter) के मुताबिक़ क़ाबिज़ फ़ौज के जंगी जहाज़ों ने एतवार और पीर की दरमयानी शब ( रात) रफा शहर में अलब्राज़ील कॉलोनी में एक मोटर सायकल पर दो मिज़ाईल हमले किए जिस में मोटर साईकल पर दो अफ़राद ( लोग) के बिशमोल ( अतिरिक्त) दीगर ( अन्य) दस अफ़राद ज़ख्मी हुए हैं।

गाज़ा में वज़ारत-ए-सेहत के तर्जुमान ( plestinian health official, Ashraf al-Kidra ) डाक्टर अशर्फ़ किदरा ने बताया कि अलराज़ील कॉलोनी में इसराईली फ़ौज के मिज़ाईल हमले में ज़ख्मी होने वाले 10 अफ़राद को अस्पतालों में लाया गया है, जिन में से तीन की हालत नाज़ुक है। ज़ख्मीयों में एक शेर ख़ार और पाँच दीगर बच्चे भी शामिल हैं।

तर्जुमान ने कहा कि इबतिदाई ( प्रारम्भिक) तौर पर उन के पास हमले में बाअज़ शहरीयों की शहादत की इत्तिला पहुंची थी ताहम ( जबकी/ यद्वपि) उस की तसदीक़ ( पुष्टी) नहीं हो सकी, अलबत्ता दस अफ़राद ज़ख़मी हुए हैं। अदहर इसराईली फ़ौज के तर्जुमान ( Spokesperson/ प्रवक़्ता) का कहना है कि रफा में अलब्राज़ील कॉलोनी में हमले का हदफ़ (निशाना/ लक्ष्य/ Target) एक मुज़ाहमती तंज़ीम की मज्लिसे शूरा के दो अरकान थे, जिन्हें मार दिया गया है।

सहयोनी फ़ौजी तर्जुमान अफ़ीहाए अदरई ने बताया कि हवाई जहाज़ के ज़रीये दो मुज़ाहमत कारों तलत ख़लील मुहम्मद जरबी और मुहम्मद हुसैन को निशाना बनाया गया था। एतवार और पीर की शब गाज़ा पट्टी पर सहयोनी लड़ाका तय्यारों (लड़ाकू विमानो) की बमबारी में दर्जन भर अफ़राद को ज़ख़मी करने के बाद आज सुबह इसराईली फ़ौज ने दुबारा ख़ान यूनुस पर गोला बारी कर दी जिस की ज़द में आकर एक नौ उम्र लड़की समेत चार अफ़राद ज़ख़मी हो गए हैं।

मेडीकल सर्विस के अमले ने मर्कज़ इत्तिलाआत फ़लस्तीन के नुमाइंदे को बताया कि इसराईली टैंकों ने गाज़ा की पट्टी के जुनूबी शहर ख़ान यूनुस के इलाक़े अब्सान में दाख़िल होकर गोला बारी की। इस गोला बारी में इलाक़े के पानी के ज़ख़ीरे (Storage) को निशाने बनाया गया।

हमले की ज़द में आकर चार अफ़राद ज़ख़मी हो गए। फ़लस्तीनी वज़ारत औक़ाफ़ के वज़ीर डाक्टर इस्माईल रिज़वान ने इसराईली फ़ौज की जानिब से गाज़ा पट्टी में दो मस्जिदों पर इसराईली हमले को शदीद तन्क़ीद ( कड़ी समीक्षा) का निशाना बनाया है। सहयोनी फ़ोर्सेस ने अपने हमलों में ख़ान यूनुस के मशरिक़ी इलाक़े फ़राहीन में मस्जिद अम्मार बिन यासर और ख़ुज़ाअ में मस्जिद अलहदी को निशाना बनाया था।

वज़ीर औक़ाफ़ ने पीर के रोज़ अपने ब्यान में कहा कि मस्जिदों पर हमले इंतिहाई ख़तरनाक हैं। गाज़ा के शहरी आबादीयों और मसाजिद पर हमले तमाम आलमी क़वानीन की खुली ख़िलाफ़वर्ज़ी हैं। उन्होंने बताया कि इसराईली फ़ोर्सेस रोज़ाना की बुनियाद पर जंगी जराइम का इर्तिकाब (बुरे काम की शुरूआत) कर रही है ताहम ( यद्वपि) उसे लगाम देने वाला कोई नहीं।

आए रोज़ इसराईली फ़िज़ाईया ( Israeli aircraft ) के लड़ाका तय्यारे ( लड़ाकू विमान) गाज़ा के मुख़्तलिफ़ ( अलग अलग) इलाक़ों पर बमबारी करके बच्चों, बुज़ुर्गों और ख्वातीन को मौत के घाट उतार रहे हैं। फ़लस्तीनी वज़ीर औक़ाफ़ डाक्टर इस्माईल रिज़वान ने अरब और इस्लामी दुनिया और आलमी बिरादरी से अपील की कि वो फ़लस्तीन और यहां पर मौजूद मसाजिद और दीगर ( अन्य) मुक़द्दस ( पवित्र) मुक़ामात ( जगहो/ स्थानों) के तहफ़्फ़ुज़ ( हिफाज़त/ रक्षा) के लिए ठोस और अमली इक़दामात उठाएं (ठोस और व्यावहारिक उपाय लें) ।

TOPPOPULARRECENT