Friday , December 15 2017

इसराईली फ़ौजीयों की अस्पताल में कार्रवाई, एक फ़लस्तीनी शहीद

Members of the Israeli security forces walks in the street as they corner off the site of an attack in annexed east Jerusalem after two Israeli policemen were injured when they were hit by a car driven by a Palestinian, who was then shot dead, on May 20, 2015. The incident took place in Al-Tur on the Mount of Olives, with police spokeswoman Luba Samri saying the driver had veered off the road and struck two border policemen. AFP PHOTO / AHMAD GHARABLI

इसराईली फ़ौजीयों ने गर्ब-ए-उर्दन के शहर अल ख़लील में एक अस्पताल में छापामार कार्रवाई के दौरान एक फ़लस्तीनी को फायरिंग कर के शहीद कर दिया है और एक को गिरफ़्तार कर दिया है।

इसराईली फ़ौज ने एक बयान में इस कार्रवाई की तसदीक़ की है लेकिन फ़लस्तीनी की हालत के बारे में कुछ नहीं बताया है। सीहूनी फ़ौज का कहना है कि उसने एक सत्ताईस साला फ़लस्तीनी इज़ाम अल शलालदा की गिरफ़्तारी के लिए ये कार्रवाई की थी।

वो दो हफ़्ते क़ब्ल ग़र्बे उर्दन में एक यहूदी आबादकार को चाक़ू घोंपने के इल्ज़ाम में मतलूब था और इस यहूदी की जवाबी फायरिंग से ज़ख़्मी होने के बावजूद भाग जाने में कामयाब हो गया था।

अल ख़लील के अलाहली अस्पताल के डायरेक्टर जिहाद शवार ने फ़लस्तीनी रेडीयो को बताया है कि जुमेरात को अल सबाह तीन बजे के क़रीब बीस से तीस अफ़राद दो मिनी वैगनों में सवार हो कर आए थे। वो एक व्हील चेयर के साथ अस्पताल में दाख़िल हुए थे और इन्होंने ये ढोंग रचाया कि उनके साथ एक हामिला ख़ातून है।

TOPPOPULARRECENT