Tuesday , December 12 2017

इस्तीफे को तैयार : मेयर

शहर के लोग अगर चाहेंगे, तो विभा देवी मेयर ओहदे से इस्तीफा दे सकती हैं। अरविंद केजरीवाल की राह पर चलते हुए मेयर ने अपने ब्लॉग ‘मेयर गया ब्लॉगस्पॉट. इन’ पर यह जज्बा का इज़हार किया है। मेयर ने इसकी तसदीक़ फोन पर बातचीत के दौरान भी की है।

शहर के लोग अगर चाहेंगे, तो विभा देवी मेयर ओहदे से इस्तीफा दे सकती हैं। अरविंद केजरीवाल की राह पर चलते हुए मेयर ने अपने ब्लॉग ‘मेयर गया ब्लॉगस्पॉट. इन’ पर यह जज्बा का इज़हार किया है। मेयर ने इसकी तसदीक़ फोन पर बातचीत के दौरान भी की है।

ब्लॉग पर मेयर ने लिखा है- ‘शहर की आवाम ने मुझे जो इज्ज़त और हिमायत दिया है, वह मेयर ओहदे से कहीं ज़्यादा कीमती है। मुझे अब इस ओहदे की कोई ख्वाहिश नहीं है। मैं शहर के आजाद पार्क में सभा बुलाऊंगी और शहर के लोगों की राय लूंगी। सभा में शहर के लोग अगर चाहेंगे, तो मैं अपने ओहदे (मेयर) से इस्तीफा दे दूंगी।

पटना की वाकिया शर्मनाक

मेयर ने अपने ब्लॉग पर पटना के होटल में लड़कियों के साथ कबीले एतराज में डिप्टी मेयर अखौरी ओंकारनाथ उर्फ मोहन श्रीवास्तव और दीगर पार्षदों के पकड़ने जाने के मामले में भी तबसीरह की है। उन्होंने इस वाकिया को शर्मनाक बताते हुए कहा है कि शहर की आवाम को छलने का काम मुल्जिमान आवाम नुमाइंदों ने किया है।

उन्होंने उन समाजी तंज़िमों और अफराद के फी भी इज़हार तशुक्र जताया है, जिन्होंने इस मामले में अपना एहतेजाज दर्ज कराया है। मेयर ने खातून पर ज़ुल्म व सितम के खिलाफ में होने वाले हर तहरीक में शहरवासियों के साथ खड़ा होने का वादा भी किया है। उन्होंने मुंसिपल कॉर्पोरेशन की सियासत में उन्हें उलझाने के कई मामलों का जिक्र भी अपने ब्लॉग पर किया है।

मेयर ने कॉर्पोरेशन में सियाससी खींचतान पर नाराजगी और नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा है कि कोई भी बदउनवान अफसर उन पर इल्ज़ाम लगा कर उन्हें ओहदे से हटा दें, यह उन्हें कुबूल नहीं होगा। ज़ाती मुफाद की सियासत में कुछ कोंस्लर और अफसरों ने कॉर्पोरेशन का माहौल खराब किया। मेयर ने इस मामले में कई दीगर नुक्तों का भी जिक्र किया है।

TOPPOPULARRECENT