Sunday , September 23 2018

इस्तीफ़ों की मंज़ूरी का क़तई फ़ैसला, स्पीकर के हाथ

हैदराबाद /19 नवंबर (सियासत न्यूज़) जगन की ताईद में मुस्ताफ़ी चार अरकान असमबली ने आज स्पीकर असमबली से मुलाक़ात की और अपने इस्तीफ़ों पर वज़ाहत पेश की। एक रुकन असमबली ने इस्तीफ़ा की मंज़ूरी की नुमाइंदगी का दावा किया, जब कि दूसरे ने कहा कि अग

हैदराबाद /19 नवंबर (सियासत न्यूज़) जगन की ताईद में मुस्ताफ़ी चार अरकान असमबली ने आज स्पीकर असमबली से मुलाक़ात की और अपने इस्तीफ़ों पर वज़ाहत पेश की। एक रुकन असमबली ने इस्तीफ़ा की मंज़ूरी की नुमाइंदगी का दावा किया, जब कि दूसरे ने कहा कि अगर अप्पोज़ीशन की जानिब से हुकूमत के ख़िलाफ़ तहरीक अदमे इअतिमाद पेश की जाती है तो हम हुकूमत की ताईद में वोट देंगे, ताहम जगन के ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई होती है तो हम जगन की मुकम्मल ताईद करेंगे।

कांग्रेस पार्टी की जानिब से जगन की ताईद में इस्तीफ़ा देने वाले कांग्रेस के अरकान असमबली चीफ़ मिनिस्टर के साथ राबिता में रहने और अपने इस्तीफ़ों पर अज़सर-ए-नौ ग़ौर करने की क़ियास आराईयों के दरमयान इस्तीफ़ा देने वाले चार अरकान असमबली मिस्टर ए नारायण रेड्डी, मिस्टर बाबू राव, मिस्टर बालराज और मिस्टर रवी ने असमबली पहुंच कर स्पीकर मिस्टर एन मनोहर से मुलाक़ात की। बादअज़ां मिस्टर बाबू रावने कहा कि हम ने इस्तीफ़ा मंज़ूर करने की स्पीकर से अपील की है। क़तई फ़ैसला स्पीकर का होगा, दुबारा कांग्रेस में शामिल होने का सवाल ही पैदा नहीं होता, ताहम आख़िरी सांस तक जगन के साथ रहेंगे।

मिस्टर ए नारायण रेड्डी ने कहा कि अपने असमबली हलक़ों की तरक़्क़ी के लिए हुकूमत से तआवुन करते रहेंगे, मगर जगन मोहन रेड्डी का साथ हरगिज़ नहीं छोड़ेंगे। अगर अप्पोज़ीशन की जानिब से किरण कुमार रेड्डी हुकूमत के ख़िलाफ़ तहरीक अदमे इअतिमाद पेश की जाती है तो हम हुकूमत की ताईद में वोट देंगे और अगर जगन को कुछ होता है तो हम हरगिज़ बर्दाश्त नहीं करेंगे। साबिक़ वज़ीर मिस्टर पी सुभाष चन्द्र बोस ने मीडीया से बातचीत करते हुए कहा कि जगन की ताईद में इस्तीफ़ा पेश करने वाले 29 अरकान असमबली अपने फ़ैसले पर अटल हैं और नज़रसानी का सवाल ही नहीं पैदा होता।

एक दो अरकान असमबली चीफ़ मिनिस्टर से मुलाक़ात करचुके हैं, जिस का मतलब ये हरगिज़ नहीं है कि वो दुबारा कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं। वो सिर्फ अपने हलक़ों की तरक़्क़ी और अवाम की फ़लाह-ओ-बहबूद के लिए चीफ़ मिनिस्टर से मुलाक़ात कर रहे हैं। वो भी राजमुंदरी पहुंचने पर चीफ़ मिनिस्टर से मुलाक़ात करचुके हैं।

जगन के ख़िलाफ़ कार्रवाई के सबब अरकान असमबली में ख़ौफ़-ओ-हिरास पैदा होने के सवाल को मुस्तर्द करते हुए उन्हों ने कहा कि कोई भी ख़ौफ़ज़दा नहीं है, बल्कि जगन के ख़िलाफ़ सी बी आई तहक़ीक़ात शुरू होने के बाद ही अरकान असमबली ने इस्तीफ़ा दिया था। तेलगु देशम की जानिब से हुकूमत के ख़िलाफ़ अदमे इअतिमाद तहरीक पेश करने के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि तेलगु देशम पार्टी, हुकूमत के लिए फ़िलवक़्त ढाल बनी हुई है।

TOPPOPULARRECENT