इस्लामिक स्टेट का नाम इसलाम के दुश्मनों ने रखा- डॉ जाकिर नाइक

इस्लामिक स्टेट का नाम इसलाम के दुश्मनों ने रखा- डॉ जाकिर नाइक
Click for full image

बांग्लादेश में हमला करने वाले आतंकियों के प्रेरणास्त्रोत के रूप में नाम सामने आने के बाद भारतीय मुस्लिम धर्मगुरु जाकिर नाइक को सफाई देने के लिए सामने आना पड़ा है। जाकिर ने इंडियन एक्सप्रेस के बातचीत के दौरान इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया (ISIS) को गैर इस्लामी बताया। 50 साल के नाइक ने कहा, ‘इस्लामिक स्टेट नाम से उन्हें बुलाकर हम लोग इस्लाम की निंदा कर रहे हैं। वे लोग इस्लाम के खिलाफ काम करने वाले लोग हैं जो विदेशियों की जान ले रहे हैं। यह नाम इस्लाम के दुश्मनों ने रखा है।

जाकिर ने आगे बताया कि फेसबुक पर उन्हें फॉलो करने वाले सबसे ज्यादा लोग बांग्लादेश के ही हैं। उनका दावा है कि 90 प्रतिशत बांग्लादेशी उन्हें जानते हैं। इनमें नेता, समाजसेवी और आम नेता सब शामिल हैं। उन्होंने कहा इस वजह से उन्हें यह जानकर हैरानी नहीं हुई कि हमला करने वाला उन्हें जानता था। जाकिर का कई देशों में जाना बैन है। इसपर उन्होंने कहा कि ऐसा करवाने के पीछे हिंदू कट्टरपंथी हैं। उन्होंने दावा किया कि जो भी हिंदू एक बार उनकी बातें सुन लेता है तो वह इस्लाम के प्रति अपनी गलत सोच को भूल जाता है।

इससे पहले खबर आई थी कि हमला करके 20 लोगों की जान लेने वाले आतंकी जाकिर के भाषण सुना करते थे। बांग्‍लोदश की सत्‍ताधारी अवामी लीग के राजनेता के बेटे रोहन इम्तियाज ने पिछले साल फेसबुक पर नाइक का एक संदेश पोस्‍ट किया था। जाकिर बांग्‍लोदश में Peace TV पर उपदेशों की वजह से मशहूर हैं। जाकिर को तब तीखी आलोचना का सामना करना पड़ा था, जब मुंबई में रिपोर्टर्स से बात करते हुए उन्‍होंने ओसामा बिन लादेन को आतंकी कहने से मना कर दिया था।

Top Stories