Monday , December 18 2017

इस्लाम की गलत तशरीह करने वालों के खिलाफ है हमारी लड़ाई : ओबामा

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि अमेरिका और उसके साथियों की लडाई कभी भी इस्लाम के साथ नहीं बल्कि इस्लाम को बदनाम करने वाले और इस्लाम की तशरीह बदलने वालों के साथ रही है। उन्होंने कहा कि आईएसआईएल और अलकायदा जैसे दहशतगर्द

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि अमेरिका और उसके साथियों की लडाई कभी भी इस्लाम के साथ नहीं बल्कि इस्लाम को बदनाम करने वाले और इस्लाम की तशरीह बदलने वालों के साथ रही है। उन्होंने कहा कि आईएसआईएल और अलकायदा जैसे दहशतगर्द तंज़ीम ऐसा दिखाते हैं जैसे वे अपने मज़हब के लिए जंग लड रहे हों, लेकिन वे इस्लाम से गुमराह हुए लोग हैं।

ओबामा ने कहा, “हमारी ल़डाई इस्लाम से नहीं है। हमारी ल़डाई उन लोगों से है जिन्होंने इस्लाम को गुमराह किया है।” ओबामा ने मंगल के रोज़ व्हाइट हाउस में मुनाकिद “तशद्दुद पसंदो से मुकाबला” कांफ्रेंस में ऐसा कहा। उन्होंने कहा कि आईएसआईएल और अलकायदा जैसे ग्रुप वैलिडिटी हासिल करने के लिए मज़हब का सहारा ले रहे हैं। वे अपने आप को मज़हबी लीडर या फिर इस्लाम के गार्ड व मज़हबी लड़ाई ल़डने वालों की शक्ल में पेश करते हैं।

ओबामा ने कहा कि यही वजह है कि आईएसआईएल ने अपने आप को इस्लामिक स्टेट के तौर पर ऐलान किया है। इसी तर्क से वे अपनी तंज़ीम में भर्तियां करते हैं। ऐसी बातों से ही वे नौजवानो को खतरनाक बनाने की कोशिश करते हैं कि मजहब को बचाने के लिए खतरनाक इंसान होना जरूरी है। ओबामा ने कहा कि जो मुस्लिम फिर्के से बाहर के लोग हैं उन्हें दहशतगर्दो के इस प्रोपगंडा को खारिज करना चाहिए कि मगरिबी ममालिक और इस्लाम के बीच कोई टकराव है या फिर माडर्न ज़िंदगी और इस्लाम के बीच कोई जंग है।

उन्होंने कहा कि, “हमें उनके गलत कामो को नामंज़ूर करना होगा, क्योंकि वे झूठ बोल रहे हैं और ना हीं इन दहशतगर्दों को हमें मज़हबी मंज़ूरी फरहाम करनी चाहिए, जो वे चाहते हैं। वे मज़हबी रहनुमा नहीं हैं बल्कि दहशतगर्द हैं।”

इस कांफ्रेंस में हिंदुस्तान समेत दुनिया के 60 ममालिक ने हिस्सा लिया। इस मौके पर ओबामा ने कहा कि, “मुझे भरोसा है कि मुस्लिम फिर्के की भी यह जिम्मेदारी है कि वे आईएसआईएल और अलकायदा के प्रोपगंडा को खारिज करेंगे।

ये अक्सरियत पसंद अनासिर इस्लाम की किताबों से अपने मुफाद में चुनिंदा बातों को उसका मुकम्मल से अलग तशरीह कर लोगों को बरगलाते हैं।”

TOPPOPULARRECENT