Friday , September 21 2018

इस गांव में हम दुल्हन नहीं देंगे!

भोपाल: मध्यप्रदेश के जिला छतरिपोर में पानी की कमी ने युवाओं के लिए अप्रत्याशित समस्या पैदा कर दिया है क्योंकि लोग अपनी बेटियों को इस गांव में ब्याह के लिए तैयार नहीं हैं। मोसा बकसवाहा एक निवासी ने कहा कि हाल ही में एक शादी रद्द कर दी गई क्योंकि इस क्षेत्र में पानी की सख्त कमी की समस्या है।

कोई अपनी बेटियों को यहाँ ब्याह के लिए तैयार नहीं हैं। जिले छतरपुर के बकसवाहा गांव में पानी का गंभीर संकट चल रहा है। एक हज़ार नफ़ूस की आबादी वाले इस गांव में पानी के लिए कोई पाइपलाइन नहीं। लोगों को प्राप्त निकासी के लिए दूरदराज के यात्रा करना पड़ता है। इस गांव में पहले दो हाथ पंप हुआ करते थे जो अब सूख गये हैं।

जसो अहरीवार के बेटे शादी यही पानी की कमी की समस्या के कारण रद्द करनी पड़ी। जसो ने बताया कि लड़की वालों ने लड़के और परिवार पसंद किया था लेकिन शिखर निकासी की स्थिति देखने के बाद दोनों पक्षों के बीच संबंध का मामला बिगड़ गया और आखिरकार शादी रद्द हो गई।

पंचायत के मुखिया राजेश प्रजापति ने इसके लिए राज्य सरकार की नीतियों को दोषी ठहराया और एक अन्य कारण यह बताया कि इस क्षेत्र में भूमिगत जल स्तर में कमी हुई है जिसकी वजह से यह कमी पैदा हो गई। इसके अलावा इस क्षेत्र पहाड़ी प्रकृति है और पहले से ही यह बंजर क्षेत्र घोषित किया जा चुका है।

इसलिए आने वाले दिनों में इस गांव के युवाओं को शादी के मामले में इसी तरह के मुद्दे आ सकते हैं। प्रजापति ने कहा कि हम इस समस्या की यकसूई में जुट गए हैं और इसे सरकार के साथ मिलकर जल्द से जल्द हल करने की कोशिश करेंगे।

TOPPOPULARRECENT