Wednesday , December 13 2017

इक़दाम-ए-ख़ुदकुशी या करतब;नौजवान की पांचवें मंज़िल से डिब्बों पर छलांग

खतरों के खिलाड़ी दुनिया भर में पाए जाते हैं लेकिन सिर्फ शौहरत के हुसूल के लिए जान हथेली पर रख कर करतब दिखाते नौजवान को शाबदे बाज़ना कहीं तो क्या कहीं?इस विडियो में ऐसा ही एक नज़ारा देखा जा सकता है।

खतरों के खिलाड़ी दुनिया भर में पाए जाते हैं लेकिन सिर्फ शौहरत के हुसूल के लिए जान हथेली पर रख कर करतब दिखाते नौजवान को शाबदे बाज़ना कहीं तो क्या कहीं?इस विडियो में ऐसा ही एक नज़ारा देखा जा सकता है।

जहां एक नौजवान ने दोस्तों से दाद हासिल करने के लिए पांचवीं मंज़िल से छलांग लगा दी ईनतेहाई बुलंदी पर एक खिड़की से बाहर निकलते हुए नौजवान के इस अंदाज़ को इक़दाम-ए-ख़ुदकुशी कहीं या करतब बाज़ी जिस ने ज़मीन पर रखे गत्ते के डिब्बों पर बलाख़ोफ़-ओ-ख़तर छलांग लगादी ।

अगर अंदाज़ा ज़रा भी ग़लत साबित होता तो जान भी दाओ पर लग सकती थी।इन खतरों के खिलाड़ियों ने अपनी जान दाओ पर लगाकर करतब बाज़ी में कामयाबी हासिल की।

TOPPOPULARRECENT