Wednesday , December 13 2017

इख़वानुल मुस्लिमीन के रुहानी पेशवा मुहम्मद बदी गिरफ़्तार

मिस्र में फ़ौज की ताईद याफ़्ता उबूरी हुकूमत ने इख़वानुल मुस्लिमीन के रुहानी रहनुमा मुहम्मद बदी को गिरफ़्तार करते हुए इस तंज़ीम के क़ाइदीन के ख़िलाफ़ बड़े पैमाने पर कार्रवाई का आग़ाज़ कर दिया है, जिसमें उन इस्लाम पसंदों को ज़बरदस्त धक्का लग

मिस्र में फ़ौज की ताईद याफ़्ता उबूरी हुकूमत ने इख़वानुल मुस्लिमीन के रुहानी रहनुमा मुहम्मद बदी को गिरफ़्तार करते हुए इस तंज़ीम के क़ाइदीन के ख़िलाफ़ बड़े पैमाने पर कार्रवाई का आग़ाज़ कर दिया है, जिसमें उन इस्लाम पसंदों को ज़बरदस्त धक्का लगा जो अपने माज़ूल सदर मुहम्मद मुर्सी की बाज़ मामूरी का मुतालिबा कररहे हैं।

इख़वानुल मुस्लिमीन के रुहानी पेशवा-ओ-रहबर आला 70 साला मुहम्मद बदी को राबिया अलादवीह चौक के क़रीब एक अपार्टमंट से गिरफ़्तार करलिया गया। इस मुक़ाम पर मुर्सी के हामियों ने गुज़िश्ता हफ़्ते बड़े पैमाने पर एहितजाजी मुज़ाहरा किया था लेकिन फ़ौज ने खूँरेज़ कार्रवाइयों के ज़रिये वहां से उनका तख़लिया करवा दिया था। एक ऐसे वक़्त जब ये इस्लाम पसंद ग्रुप 3 जुलाई को बरतरफ़ सदर मुर्सी की बाज़ मामूरी के ख़िलाफ़ हनूज़ एहितजाजी मुहिम में मसरूफ़ हैं, अपने रुहानी पेशवा की अचानक गिरफ़्तारी से एक नई उलझन का शिकार होगया, लेकिन मुहम्मद बदी की गिरफ़्तारी के बाद फ़ौरी क़दम उठाते हुए महमूद इज़्ज़त को इस ग्रुप का उबूरी सरबराह मुक़र्रर कर दिया गया। इख़वानुल मुस्लिमीन के सियासी शोबे फ़्रीडम ऐंड जस्टिस पार्टी ने अपने वेब साईट पर ये ख़बर दी और कहा कि खूँरेज़ फ़ौजी बग़ावत करनेवाली सेक्यूरिटी फोर्सेस की जानिब से मुहम्मद बदी की गिरफ़्तारी के बाद महमूद इज़्ज़त को आरिज़ी तौर पर रहबर आला मुक़र्रर किया गया है। मुहम्मद बदी पर अवाम को तशद्दुद के लिए उकसाने और जून के दौरान क़ाहिरा में अपने हेडक्वार्टर्स के क़रीब इख़वानुल मुस्लिमीन के मुख़ालिफ़ आठ मुज़ाहिरीन की हलाकतों के इल्ज़ामात लगाए गए हैं।

मीडिया रिपोर्टस में कहा गया है कि मुहम्मद बदी को भी क़ाहिरा के तोरा जेल मुंतक़िल किया गया, जहां साबिक़ सदर हुसनी मुबारक भी क़ैद हैं। सोशल मीडिया पर गश्त करनेवाली तस्वीर में मुहम्मद बदी को रिवायती सफ़ैद दुश् दाशा (तोब) में मलबूस देखा गया है जो एक पुलिस वैन में बुलेट प्रूफ़ जैकेट पहने हुए दो मुलाज़मीन पुलिस के दरमियान बैठे हुए थे।

सरकारी मीडिया ने कहा कि मुहम्मद बदी की रूपोशी के मुक़ाम का पता चलने के बाद उन्हें गिरफ़्तार किया गया। मिस्र के एक सैटेलाइट चैनल ओ एन टी वी ने अपने रास्त नशर फुटेज में मुहम्मद बदी को एक पुलिस वैन में बैठा दिखाया गया। उन के दोनों जानिब राइफ़लों से मुसल्लह मुलाज़िम पुलिस बैठे हुए थे। मुहम्मद बदी की इस गिरफ़्तारी से चंद दिन क़बल ही उन के बेटे 38 साला अम्मार को रिमसीस उसको आवर पर एहितजाजी मुज़ाहिरों के दौरान पुलिस ने गोली मार कर हलाक कर दिया था। मुरसी को माज़ूल करनेवाली फ़ौज की मुख़ालिफ़त करने वाले इस्लाम पसंदों के ख़िलाफ़ बड़े पैमाने पर कार्यवाईयों के दरमयान मुलक में एमरजैंसी नाफ़िज़ करदी गई थी। मिस्र में बुलाव क़ुफ़्फ़ा कर्फ़यू जारी है जिस के नतीजा में मुलक दो बड़े ग्रुपों की शीराज़ा बंदी में मुनक़सिम होगया है। इस दौरान नोबल ईनाम-ए-याफ़्ता मुहम्मद अलबरादई को क़ौमी एतिमाद शिकनी के इल्ज़ामात का अदालत में सामना है। उन्हों ने इख़वानुल मुस्लिमीन एहितजाजियों के ख़िलाफ़ खूँरेज़ कार्रवाई के बाद उबूरी नायब सदर की हैसियत से अस्तीफ़ा देदिया था।

दो दिन क़ब्ल फ़ौज ने सनाई की एक जेल से फ़रार होने 680 क़ैदियों में शामिल 36 इस्लाम पसंदों को दुबारा पकड़ते हुए हलाक कर दिया था जिस के दूसरे दिन इस्लाम पसंदों ने सरहदी शहर रफा में 25 मुलाज़िमीन पुलिस को इजतिमाई तौर पर हलाक कर दिया था।

TOPPOPULARRECENT