Saturday , November 25 2017
Home / India / ईमानदारी की मिसाल: नोटबंदी के दौर में गरीब ने लौटाया सोने से भरा बैग

ईमानदारी की मिसाल: नोटबंदी के दौर में गरीब ने लौटाया सोने से भरा बैग

कर्नाटक: देश में चल रहे बेहद खराब माहौल में जहाँ पैसे न होने के कारण गुस्से में आकर इक-दुसरे की जान तक लेने पर उतारू हो चुके हैं वहीँ   बंतवाल गाँव में एक आदमी ने ईमानदारी की मिसाल पेश की है। बल्थीला नीरूपदे गाँव के रहने वाले हमीद को 13 नवंबर को सड़क के किनारे एक बैग पड़ा हुआ मिला जब उसने उठाया तो देखा कि वह बैग सोने से भरा हुआ है। आपको बता दें कि उस बैग में 380 ग्राम सोना था।

हमीद ने ढूढने की कोशिश की कि बैग जिसका है उसे लौट दे। लेकिन जब उसे उस बैग का कोई सही दावेदार नहीं मिला तो वह उस बैग को लेकर ग्राम पंचायत के मेंबर शिवकुमार के पास पहुंच गए और उन्हें सारी बात बताई। जिसके तुरंत बाद दोनों ने गाँव के पुलिस स्टेशन में जाना मुनासिब समझा ताकि वह बैग को उसके सही मालिक तक पहुंचा सकें।

उसके अगले ही दिन नरसिम्हा प्रभु नाम के एक आदमी ने अपने जेवेलरी से भरे बैग खोने की रिपोर्ट दर्ज करवाई और पुलिस द्वारा उस से की गई पूछताछ में पता लगा कि वह बैग के असली मालिक है। पुलिस ने तब हमीद और शिवकुमार को बुलाकर उनकी उपस्थिति में नरसिम्हा को बैग दिया ताकि उन्हें पता चल जाए कि बैग उसके असली मालिक के हाथों में ही गया है।

TOPPOPULARRECENT