Wednesday , June 20 2018

ईरानी अदाकार को अहमदी नज़ाद का हमशकल होने की सज़ा

एक मशहूर ईरानी अदाकार ने कहा है कि उन्हें साबिक़ ईरानी सदर महमूद अहमदी नज़ाद का हमशकल होने की वजह से आठ साल तक अदाकारी करने से रोक दिया गया था।

एक मशहूर ईरानी अदाकार ने कहा है कि उन्हें साबिक़ ईरानी सदर महमूद अहमदी नज़ाद का हमशकल होने की वजह से आठ साल तक अदाकारी करने से रोक दिया गया था।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़ मुहम्मद बसेरी ने ये इन्किशाफ़ एक इंटरव्यू के दौरान किया। उन्हों ने कहा कि उन्हें अपने ऊपर पाबंदी का उस वक़्त मालूम हुआ जब वुकला ने उन्हें फ़ोन कर के पूछा कि क्या उन्हें पता है कि वो मज़ीद अदाकारी नहीं कर सकते। ये सब 2005 में अहमदी नज़ाद का सदारती इंतिख़ाब जीतने के बाद हुआ।

TOPPOPULARRECENT