ईरानी वज़ीरे ख़ारजा का इस्ताम्बुल दौरा

ईरानी वज़ीरे ख़ारजा का इस्ताम्बुल दौरा

ईरान और तुर्की के माबैन दो तरफ़ा इक़्तेसादी तआवुन को बेहतर बनाने के लिए सनीचर के रोज़ ईरानी वज़ीरे ख़ारजा जव्वाद ज़रीफ़ तुर्की के शहर इस्ताम्बुल पहुंच गए। ईरानी मीडिया के मुताबिक़ जव्वाद ज़रीफ़ तुर्क हुक्काम के साथ दो तरफ़ा इक़्तेसादी तआवुन और तिजारत को मज़बूत तर बनाने के इलावा मौजूदा इलाक़ाई सूरते हाल पर भी तबादला-ए-ख़्याल करने की ग़रज़ से इस्ताम्बुल पहुंचे हैं।

इस्ताम्बुल पहुंचने पर ज़रीफ़ की मुलाक़ात तुर्क सदर रजब तैयब उर्दूआन के साथ मुतवक़्क़े है इस के इलावा ईरानी वज़ीरे ख़ारजा अपने तुर्क हम मन्सब मोलोत चाओस आओलो और तुर्क वज़ीरे आज़म अहमत दाऊद आओलो से भी मुलाक़ातें करेंगे।

दरीं अस्ना तुर्की की वज़ारते ख़ारजा ने कहा है कि ईरानी वज़ीरे ख़ारजा के तुर्की के इस दौरे का मक़सद मौजूदा इलाक़ाई और बैनुल अक़वामी सूरते हाल और दो तरफ़ा ताल्लुक़ात के बारे में मुज़ाकरात करना है। जव्वाद ज़रीफ़ ने अपने इस दौरे का अहम तरीन एजेंडा बाहमी तिजारती ताल्लुक़ात का फ़रोग़ बताया है।

इस्ताम्बुल पहुंचने पर सहाफ़ीयों से बात-चीत करते हुए ज़रीफ़ ने कहा, ईरान की न्यूक्लीयर डील तय पाने के बाद हम तुर्की के साथ इक़्तेसादी तआवुन की सतह को मुम्किना हद तक ऊपर ले जाने की कोशिश कर रहे हैं।

Top Stories