Tuesday , November 21 2017
Home / Khaas Khabar / ईरान के साथ जौहरी मुआहिदा ही क़ाबिले अमल रास्ता था: जान कैरी

ईरान के साथ जौहरी मुआहिदा ही क़ाबिले अमल रास्ता था: जान कैरी

अमरीकी वज़ीर-ए-ख़ारिजा जान कैरी ने सैनेट की कमेटी बराए ख़ारिजा उमूर सामने ईरान के साथ जौहरी मुआहिदे का दिफ़ा करते हुए उसे मसले के पुरअमन का वाहिद क़ाबिल अमल रास्ता क़रार दिया है।

जुमेरात को कमेटी के सामने वज़ीर-ए-ख़ारिजा जान कैरी के हमराह वज़ीर-ए-ख़ज़ाना जैक लीओ और वज़ीर-ए-तवनाई अर्नेस्ट मोइज़ पेश हुए। जान कैरी ने कमेटी को बताया; हमें (ईरान को) जौहरी हथियारों से दूर रखना था और हम ने ये हासिल कर लिया है।

अमरीकी कांग्रेस के पास इस मुआहिदे का जायज़ा लेने के लिए दो माह की मुद्दत है।
कांग्रेस के दोनों ऐवानों में रिपब्लिकन पार्टी अक्सरीयत में है और रिपब्लिकन अराकीन इस मुआहिदे की मुख़ालिफ़त करते हैं।

तवक़्क़ो की जा रही है कि आइन्दा हफ़्तों में कांग्रेस के जायज़े के दौरान जान कैरी से इस मुआहिदे में मौजूद शराइत के बारे में सख़्त सवालात किए जाऐंगे।

TOPPOPULARRECENT