ईरान को धमकी देने पर ट्रम्प की भारी आलोचना!

ईरान को धमकी देने पर ट्रम्प की भारी आलोचना!

अमरीका के कनेक्टिकट राज्य के सेनेटर क्रिस मर्फ़ी ने ईरान को धमकी देने के लिए राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प की आलोचना की है।

पार्स टुडे डॉट कॉम के अनुसार, मर्फ़ी ने ईरान के ख़िलाफ़ किए गए ट्रम्प के ट्वीट को एक बचकाना हरकत बताते हुए कहा, चौथी क्लास में पढ़ने वाला मेरा बेटा अगर समस्त शस्त्र बलों का प्रमुख कमांडर होता तो वह भी इसी तरह की बातें करता।

ग़ौरतलब है कि अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने एक ट्वीच करके कहा है कि अगर ईरान युद्ध चाहता है तो औपचारिक रूप से यह उसका अंत होगा, इसलिए कभी भी फिर अमरीका को धमकी नहीं देना। इसी प्रकार ट्रम्प ने फॉक्स न्यूज़ को इंटरव्यू देते हुए ईरान के ख़िलाफ़ अपने निराधार आरोपों को एक बार फिर दोहराया है।

अमरीकी राष्ट्रपति का कहना था कि ओबामा द्वारा किया गया परमाणु समझौता एक बहुत बड़ी ग़लती थी। ट्रम्प का यह भी कहना था कि वह ईरान से सीधे युद्ध नहीं चाहते हैं, बल्कि उनकी प्राथमिकता आर्थिक युद्ध है।

ईरान क्षेत्र में सैन्य टकराव या तनाव में वृद्धि नहीं चाहता है, लेकिन उसने यह स्पष्ट कर दिया है कि हर समय और हर स्थान पर वह अशांति एवं अस्थिरता फैलाने वालों का मुक़ाबला करने के लिए तैयार है। तेहरान का मानना है कि उसे अपनी रक्षा के लिए किसी से अनुमति लेने की ज़रूरत नहीं है।

Top Stories