Tuesday , January 23 2018

ईरान जौहरी मुआहिदा, जॉन कैरी कांग्रेस को ब्रीफिंग देंगे

U.S. Secretary of State John Kerry speaks about the Ukraine crisis after his meetings with other foreign ministers in Paris, March 5, 2014. Kerry spoke to reporters at the U.S. ambassador's residence in Paris. REUTERS/Kevin Lamarque (FRANCE - Tags: POLITICS)

ईरान के साथ तय पाने वाले जौहरी मुआहिदे का जायज़ा लेने वाले अमरीकी क़ानून साज़ों की हिमायत के हुसूल के लिए जारी कोशिशों के सिलसिले में वज़ीरे ख़ारजा जॉन कैरी और तवानाई के वज़ीर मोनीज़ मंगल को दोबारा कांग्रेस की उमूरे ख़ारिजा की कमेटी के सामने पेश होंगे।

इक़्तिसादी पाबंदीयों को उठाए जाने के इवज़ ईरान की तरफ़ से अपने जौहरी प्रोग्राम को महदूद करने के मुआहिदे पर ग़ौर और राय शुमारी के लिए कांग्रेस के पास 60 रोज़ का वक़्त है जिस में अब सात हफ़्ते बाक़ी रह गए हैं।

अक़वामे मुत्तहिदा की सलामती कौंसिल ने गुज़िश्ता हफ़्ते इस मुआहिदे की शराइत की मंज़ूरी देने के बाद एक निज़ामुल औक़ात वज़ा किया था, जिस के तहत इस साल के अवाख़िर तक पाबंदीयां का ख़ात्मा हो सकता है। जॉन कैरी और मोनीज़, वज़ीरे ख़ज़ाना जैकब लियो के हमराह ऐवान की उमूरे ख़ारिजा की कमेटी के सामने अपना बयान देंगे।

TOPPOPULARRECENT