Sunday , January 21 2018

ईरान पर तहदीदात, हिंदुस्तान ताल्लुक़ात को बेहतर बनाने कोशां

वाशिंगटन 13 मार्च ( पी टी आई ) ईरान पर बढ़ते हुए आलमी दबाव और शदीद मआशी तहफ़्फुज़ात में इज़ाफ़ा के दरमियान हिंदुस्तान इस मुल्क के साथ अपने तारीख़ी सक़ाफ़्ती और रिवायती ताल्लुक़ात को महफ़ूज़ और बरक़रार रखने के लिए जुस्तजू कर रहा है

वाशिंगटन 13 मार्च ( पी टी आई ) ईरान पर बढ़ते हुए आलमी दबाव और शदीद मआशी तहफ़्फुज़ात में इज़ाफ़ा के दरमियान हिंदुस्तान इस मुल्क के साथ अपने तारीख़ी सक़ाफ़्ती और रिवायती ताल्लुक़ात को महफ़ूज़ और बरक़रार रखने के लिए जुस्तजू कर रहा है । भारत को ईरान के साथ या फिर उसे ईरान के ख़िलाफ़ अमरीकी ज़ेरे क़ियादत आलमी बिरादरी में शामिल होना चाहीए ।

अमरीकी कांग्रेस की जारी कर्दा रिपोर्ट में बताया गया है कि 2011-12 में बैनुल अक़वामी तहदीदात में इज़ाफ़ा के साथ ही हिंदुस्तान को ईरान के साथ अपने ताल्लुक़ात की हिफ़ाज़त करने के लिए जुस्तजू करनी पड़ रही है । ईरान हिंदुस्तान की मआशी तरक़्क़ी के लिए दरकार तेल फ़राहम करता है ।

हिंदुस्तान को ये सोचना है कि उसे ईरान के साथ रहना है यह ईरान को यका और तन्हा करने के लिए अमरीकी और बैनुल अक़वामी कोशिशों में शामिल होना है। इस सूरते हाल के पेशे नज़र हिंदुस्तान को पसो पेश का सामना है।

वयाना कनवेनशन के आर्टीकल 23 और सिफारती ताल्लुक़ात के असास पर वयाना कनवेनशन के आर्टीकल 9 के मुताबिक़त में वेनेज़ुएला के दोनों सफ़ीर ओरनाल्डो जोश मोनटेनज़े और कौंसिलर ऑफीसर विक्टर कानकरो के इख़राज के अहकामात जारी किए गए हैं।

TOPPOPULARRECENT