ईरान में ज़लज़ला: 306 हलाक, वबाओं का अंदेशा

ईरान में ज़लज़ला: 306 हलाक, वबाओं का अंदेशा
शुमाल मशरिक़ी ईरानी शहर तब्रेज़ और इस के गिर्द-ओ-नवाह में कल पिछली पहर आने वाले दो ज़लज़लों में कम अज़ कम306 लोगों की हलाकत की ईरानी हुक्काम ने तसदीक़(पुष्टि) करदी है।

शुमाल मशरिक़ी ईरानी शहर तब्रेज़ और इस के गिर्द-ओ-नवाह में कल पिछली पहर आने वाले दो ज़लज़लों में कम अज़ कम306 लोगों की हलाकत की ईरानी हुक्काम ने तसदीक़(पुष्टि) करदी है।

ईरानी हुक्काम के मुताबिक़ इस ज़लज़ले में दो हज़ार से ज़्यादा लोग ज़ख़मी भी हुएं।आफ़त समावी के नतीजे में इन हलाकतों पर ईरान में दो रोज़ा क़ौमी सोग का ऐलान किया गया है।

तब्रेज़ में एक स्टेडियम में ईरानी हलाल-ए-अह्मर ने 6000 खे़मे नसब कर के ज़लज़ले में बेघर हो जाने वाले 16000 अफ़राद के क़ियाम का इंतिज़ाम किया है।ज़िंदा बच जाने वाले अफ़राद में वबाई बीमारीयां फैल जाने का अंदेशा पैदा होगया है

क्योंकि आबी वसाइल मैं मवेशीयों की नाशितें कसीर तादाद में पड़ी हुई हैं और सड़ रही हैं जिस से आबी आलूदगी (गंना पानी)पैदा होसकती है और इस के नतीजा में वबाई अमराज (viralबिमारी) फैल सकते हैं ।

Top Stories