Saturday , December 16 2017

ईरान में दो हफ़्तों में 40 अफ़राद को सज़ाए मौत

एमनेस्टी इंटरनेशनल ने कहा है कि ईरान में गुज़िश्ता एक हफ़्ते में 33, जबकि मजमूई तौर पर दो हफ़्तों में 40 अफ़राद को सज़ाए मौत दी गई। हक़ूक़े इंसानी की आलमी तंज़ीम ने ईरान में सज़ाए मौत पर अमल दरआमद में तेज़ी से इज़ाफे़ पर तशवीश का इज़हार कर

एमनेस्टी इंटरनेशनल ने कहा है कि ईरान में गुज़िश्ता एक हफ़्ते में 33, जबकि मजमूई तौर पर दो हफ़्तों में 40 अफ़राद को सज़ाए मौत दी गई। हक़ूक़े इंसानी की आलमी तंज़ीम ने ईरान में सज़ाए मौत पर अमल दरआमद में तेज़ी से इज़ाफे़ पर तशवीश का इज़हार करते हुए बैनुल अक़वामी बिरादरी से ईरान में इंसानी हुक़ूक़ की मुबैयाना ख़िलाफ़ वर्ज़ीयों को रोकने के लिए ईरानी हुकूमत पर दबाव डालने का मुतालिबा किया है।

लंदन में वाईस ऑफ़ अमरीका को ख़ुसूसी इंटरव्यू में मशरिक़े वुस्ता के लिए इदारे की मुआविन सरब्राह हसीबा सहराई ने कहा कि ईरान दुनिया भर में अपने तशख़्ख़ुस को बेहतर बनाने की कोशिशों में मसरूफ़ है। लेकिन सज़ाए मौत पर अमल दरआमद में तेज़ी से इज़ाफ़ा, ईरानी हुकूमत के लिए कोई मुसबत पैग़ाम नहीं देता।

TOPPOPULARRECENT