Sunday , June 24 2018

ईराक़ में रायदेही मराकज़ पर हमले, 8 अफ़राद हलाक

ख़ुदकुश बम बर्दारों ने कई मराकज़ रायदेही और फ़ौजीयों पर हमले किए जिस की वजह से कम अज़ कम 18 अफ़राद हलाक और दीगर कई ज़ख़्मी हो गए। चंद दिन क़ब्ल तशद्दुद ज़दा ईराक़ में असेंबली इंतिख़ाबात मुनाक़िद किए गए थे।

ख़ुदकुश बम बर्दारों ने कई मराकज़ रायदेही और फ़ौजीयों पर हमले किए जिस की वजह से कम अज़ कम 18 अफ़राद हलाक और दीगर कई ज़ख़्मी हो गए। चंद दिन क़ब्ल तशद्दुद ज़दा ईराक़ में असेंबली इंतिख़ाबात मुनाक़िद किए गए थे।

अमरीकी फ़ौज के 2011 के अवाख़िर में तख़लिया के बाद ये अव्वलीन पार्लीमानी इंतिख़ाबात हैं। वज़ीरे आज़म नूर अल मालिकी तीसरी मियाद के लिए मुक़ाबला कर रहे हैं लेकिन इंतिख़ाबात पर उम्मीदवारों, इंतिख़ाबी कारकुनों और सियासी जुलूसों पर मुल्क के बाअज़ इलाक़ों में अस्करीयत पसंद हमलों के साया मंडला रहे हैं।

अस्करीयत पसंद हुकूमत के क़ाबू से बाहर हैं ओर उन्हों ने इंतिबाह दिया है कि रायदेही नहीं होने देंगे। वस्ती बग़दाद में ख़ुदकुश बेल्ट पहने वाले एक हमला आवर ने अलीउल सुबह एक मर्कज़ रायदेही को हमला का निशाना बनाया जबकि फ़ौजी हक़ रायदेही इस्तेमाल करने के लिए क़तार में खड़े हुए। धमाको मादों का पता चलाने के लिए पुलिस के खोजी कुत्ते इस्तेमाल किए जा रहे हैं।

ईराक़ में हालिया अर्सा में तशद्दुद में इज़ाफ़ा देखा जा रहा है। सुन्नी अस्करीयत पसंद फ़ौज और पुलिस के इलावा मुल्क की शीया अस्करीयत को हमला का निशाना बना रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT