Wednesday , December 13 2017

ईस्लाम स्वीकार करने के किसी भी मामले में जबरन धर्मपरिवर्तन नही हुआ है -पुलिस

मंगलुरु -दक्षिण कन्नड़ जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने ‘धर्मपरिवर्तन रैकेट ‘ जैसे किसी संघठित गिरोह द्वारा जबरन धर्म परिवर्तन के दावों को अफवाह करार दिया है .

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

आपको बता दे दक्षिण कन्नड़ में भाजपा ने पुलिस से ज़बरन धर्म परिवर्तन करने वालो के खिलाफ करवाई करने की मांग की थी .अंग्रेजी अखबार हिन्दू के अनुसार इस जिले में भाजपा के जिला अध्यक्ष संजीव मतंदूर ने आरोप लगाया था कि कुछ राजनैतिक दलों द्वारा समर्थित कुछ संघठन नौजवानों को मुसलमान बनने पर मजबूर कर रहे है .

भाजपा के दावों पर प्रतिक्रिया देते हुयें एसपी भूषण गुलाबराव बोरसे ने इस तरह के दावों को गलत बताया और मीडिया को दियें अपने बयान में कहा कि अब तक जिले में एक भी ऐसी शिकायत पुलिस को नहीं प्राप्त हुई है जिसमे प्राथी ने ज़बरन धर्मपरिवर्तन का या तो दावा किया हो या फिर कोई शिकायत की हो .
उन्होंने ये भी कहा कि कुछ भगवा संघठन ( विहिप और बजरंग दल )ने ज़रूर दावा किया था कि कुछ संघठन जिले में नौज़वानो का ज़बरदस्ती धर्मपरिवर्तन करवा रहे है इन दावों कि पुलिस अभी जांच कर रही है .

अभी हाल ही में कुछ दिनों पहले जिले के मंदेकोलू गाँव में सतीश आचार्य ने अपना मज़हब बदल के अपना नाम मुहम्मद मुस्तकीम रख लिया था जिस पर भगवा संघठनो का आरोप था कि सतीश का ज़बरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाया गया है .

इस पर अपनी जवाब देते हुयें एसपी ने कहा किया कि पुलिस ने जब सतीश उर्फ़ मुस्तकीम से संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि उन्होंने इस्लाम मज़हब अपनी मर्ज़ी और बिना किसी दवाब के स्वीकार किया है .

TOPPOPULARRECENT